News Narmadanchal
अवैध खनन में पकड़े वाहन छुड़ाने का सुनेहरा मौका, आधी कीमत दो और वाहन लो

अवैध खनन में पकड़े वाहन छुड़ाने का सुनेहरा मौका, आधी कीमत दो और वाहन लो

प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर

चंडीगढ़ (योगेंद्र शर्मा)। राज्य में अवैध खनन (Illegal mining) के काम में लगे जब्त हुए डंपर अन्य वाहन मालिकों के लिए थोड़ी राहत (Relief) भरी खबर है, इन्हें छुड़ाने के लिए लगने वाले जुर्माने की राशि में कमी की गई है। अब से पहले वाहन की शोरूम की कीमत (Showroom Price) से आधी राशि बतौर जुर्माना (Fine) अदा करने के बाद ही इन्हें छोड़ा जाता था। अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए चली मुहिम के तहत राज्य के एनसीआर क्षेत्र से लगे जिलों, खनन एरिया में इस तरह के ढाई हजार वाहन जब्त किए गए थे। इन वाहनों पर पहले भारी भरकम जुर्माना होने के कारण इनके मालिक इन्हें छुड़ाने के लिए जुर्माने की राशि जमा करने से पीछे हट रहे थे। अवैध खनन और बाकी कारणों से इस तरह के वाहनों की लगातार संख्या बढ़ने और जुर्माना जमा नहीं होने की स्थिति को देखते हुए प्रदेश के परिवहन और खनन मंत्री मूलंचद शर्मा ने आला-अफसरों के साथ में बैठक कर इसमें कुछ राहत देने का फैसला लिया था। इससे जहां खड़े हुए वाहन रिलीज होंगे, वहीं विभाग को जुर्माने के रूप में अच्छी खासी रकम भी मिल जाएगी।

परिवहन मंत्री ने कहा कि जुरमाने में राहत दी गई है। अब शोरुम से आधी कीमत नहीं बल्कि इसको हमने 20 लाख से ऊपर वाले वाहन पर चार लाख की राशि, इसके नीचे के वाहन पर तीन लाख की राशि जबकि उसके नीचे के वाहन पर जुर्माने के तौर पर दो लाख की राशि ली जाएगी। जिसके बाद ही इन वाहनों को रिलीज किया जा सकता है। अब वाहन मालिक भी कोविड से पहले के खड़े इन वाहनों को छुड़ाने के लिए सक्रिय नजर आ रहे हैं। वैसे, भी इन वाहनों में यूपी, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा राजस्थान जैसे प्रदेशों के वाहन शामिल हैं। 

मंत्री शर्मा आज लेंगे बैठक

खनन मामलों के मंत्री मूलचंद शर्मा ने बुधवार की सुबह 11 बजे एक बैठक बुलाई है। जिसमें राज्य खनन विभाग के अधिकारी हिस्सा लेंगे। इस दौरान मंत्री खनन विभाग के कामकाज की समीक्षा करेंगे, जिसमें खनन की साइट, राजस्व के हालात के साथ साथ में निलंबित पड़ी साइटों को लेकर इसका ब्योरा लेंगे ताकि उनको नए सिरे से नीलाम किया जा सके। पूरे साल में रेवेन्यू में खासे उछाल होने से मंत्री भी उत्साहित हैं। उनका कहना है कि आठ सौ से लेकर 9 सौ करोड़ तक का राजस्व हमें मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले वक्त में इसमें इजाफा होने की उम्मीद है।

दिल्ली से आने वाले माल पर भी नजर

मंत्री ने अब दिल्ली की ओर से प्रवेश करने वाले वाहनों पर भी नजर रखने और पत्थर आदि होने की स्थिति में उनसे टैक्स वसूलने का निर्देश दिया है। मंत्री ने इस संबंध में बुधवार को विचार विमर्श के बाद में दिल्ली एनसीआर से वाहनों के प्रवेश और उनमें आने वाले माल को लेकर मंथन होगा।

अवैध खनन (Illegal Mining) पर रोक लगाने के लिए चली मुहिम के तहत राज्य के एनसीआर (NCR) क्षेत्र (Area) से लगे जिलों, खनन एरिया में इस तरह के ढाई हजार वाहन जब्त किए गए थे।

Related Articles