News Narmadanchal
आपने सोचा तो होगा कि काश हवा में ही कोरोना वायरस का पता चल जाए; आ रही ऐसी मशीन!

आपने सोचा तो होगा कि काश हवा में ही कोरोना वायरस का पता चल जाए; आ रही ऐसी मशीन!

आज सभी कोरोना वायरस से बचने का उपाय देख रहे है। सभी देशों द्वारा किसी को भी कोरोना ना हो इस लिए सभी को मास्क पाहेराने की हिदायत दी गई है। पर क्या हो अगर आपको यही पता चल जाए कि आपकी आसपास की हवा में कोरोना है या नहीं। जी हां यह बिल्कुल सही है। कैनेडा की दम कंपनी ऐसा डिवाइस बनाने जा रही है, जो हवा में कोरोना वायरस की मौजूदगी बता पाएंगी।

कंट्रोल एंजी कॉर्प नामक एक कंपनी इनडोर वायु की गुणवत्ता चैक करने के साधन बनाती है। इसी कंपनी ने कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद एक ऐसा उपकरण विकसित करना शुरू किया जो कोरोना वायरस का पता लगा सके।

कंपनी ने कैनेडा के ओंटारियो में दो प्रयोगशालाओं में कोरोना वायरस पर शोध करने के बाद बायोक्लाउड नामक उपकरण विकसित किया है। डिवाइस एक हैंड ड्रायर की तरह दिखता है, लेकिन डिवाइस हवा को अंदर की ओर खींचता है और फिर हवा में कोरोना के वायरस की जांच करता है।

कंपनी का कहना है कि डिवाइस यह निर्धारित करता है कि किसी विशेष स्थान पर क्या वायरस हवा में मौजूद है! यदि परिणाम पॉजिटिव आता है, तो वहां मौजूद लोगों की शारीरिक जांच की जा सकती है। इस उपकरण का उपयोग ऑफिस और स्कूलों में किया जा सकता है।

कंपनी को पहले से ही दुनिया भर से ऑर्डर मिलने शुरु हो गए है। कंपनी का कहना है की वह हर महीने 20,000 यूनिट तैयार कर सकती है। नवंबर में लॉन्च होने वाले इस डिवाइस की टेस्टिंग कैनेडा की वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर डेविड हेनरिक्स ने किया है।

आज सभी कोरोना वायरस से बचने का उपाय देख रहे है। सभी देशों द्वारा किसी को भी कोरोना ना हो इस लिए सभी को मास्क पाहेराने की हिदायत दी गई है। पर क्या हो अगर आपको यही पता चल जाए कि आपकी आसपास की हवा में कोरोना है या नहीं। जी हां यह बिल्कुल सही

Related Articles