News Narmadanchal
आरपीएफ की वर्दी पर बॅाडीवार्न कैमरे लगने से बढी अलर्टनेस

आरपीएफ की वर्दी पर बॅाडीवार्न कैमरे लगने से बढी अलर्टनेस

आरपीएफ के जवान (प्रतीकात्मक फोटो)आरपीएफ के जवान (प्रतीकात्मक फोटो)

कोराेनाकाल में स्पेशल ट्रेनों में यात्री सुरक्षा व कोरोना संक्रमण के नियमों के पालन पर नजर रखने में आरपीएफ की वर्दी पर लगे बॉडीवार्न कैमरे मददगार साबित हो रहे हैं। वर्दी पर कैमरे लगने से एक तरफ जहां आरपीएफ के जवान ट्रेनों में एस्काॅर्टिंग अधिक मुस्तैदी से कर रहे हैं, वहीं स्पेशल ट्रेनों मेेेें साेशल डिस्टेेंसिंग, मास्क का इस्तेमाल सहित अन्य सभी तरह की गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा रही है।

बता दें कि ट्रेनों में एस्काॅर्टिंग करने वाले आरपीएफ के जवानों को यात्री सुरक्षा के स्तर पर एडवांस बनाने लाखों रुपए की लागत से उनकी वर्दी पर बॉडीवार्न कैमरे लगाने की योजना अमल में लाई गई है। रायपुर डिवीजन आरपीएफ के अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में नियमित ट्रेनों के बंद होने पर स्पेशल ट्रेनों पर आरपीएफ के जवान बॉडीवार्न कैमरों के साथ एस्काॅर्टिंग का जिम्मा संभाल रहे हैं।

हालांकि अभी तक आरपीएफ के बॉडीवार्न कैमरे में रायपुर डिवीजन के अंतर्गत चल रही ट्रेनों में की जा रही एस्काॅर्टिंग में किसी तरह की आपराधिक व संदिग्ध गतिविधयां रिकार्ड नहीं हुई हैं। इतना जरूर है कि जवानों की वर्दी पर कैमरे लगने से एस्काॅर्टिंग के दौरान उनके मूवमेंट पर कंट्रोलरूम से निगरानी करने में आसानी हो रही है।

तीनों रेल मंडल के लिए 45 कैमरे मिले

बिलासपुर रेलवे जोन मुख्यालय ने रायपुर, बिलासपुर और नागपुर तीनों रेल मंडल के आरपीएफ जवानों के लिए 45 बॉडीवार्न कैमरे खरीदे हैं। इनमें से 5 कैमरे रायपुर डिवीजन, 30 बिलासपुर डिवीजन और 10 नागपुर डिवीजन के आरपीएफ जवानों को उपलब्ध कराए गए हैं, ताकि इन मंडल क्षेत्रों से चलने वाली ट्रेनों में यात्रा के दौरान होने वाली किसी भी संदिग्ध गतिविधियों पर रेलवे सुरक्षा बल त्वरित सुरक्षात्मक कार्रवाई को अंजाम दे सके।

रोजाना फुटेज की जांच

जवानों के बॉडीवार्न कैमरे की फुटेज रिकार्डिंग की रोजाना जांच करने एक आरपीएफ के इंस्पेक्टर की ड्यूटी लगाई गई है, जो डिवीजन के कंट्रोलरूम में संबंधित जवानों के ड्यूटी टाइम से ड्यूटी ऑफ होने तक की रिकार्डिंग को अपडेट करता है। इसके साथ हर सप्ताह आरपीएफ डिवीजनल सिक्यूरिटी कमांडेंट द्वारा भी बॉडीवार्न कैमरे की फुटेज रिकार्डिंग जांच की जा रही है, ताकि जवान मुस्तैदी के साथ ट्रेनों में यात्रियों को सुरक्षा प्रदान कर सकें।

जवान पहले से अधिक मुस्तैद

आरपीएफ डिवीजन रायपुर रेल मंडल के लिए जोन मुख्यालय से 5 बॉडीवार्न कैमरे उपलब्ध कराए गए हैं। वर्तमान में कोरोनाकाल में चल रही स्पेशल ट्रेनों में 5 आरपीएफ के जवान बॉडीवार्न कैमरे से लैस हाेकर रोजाना एस्कॉर्टिंग कर रहे हैं। जवानों के वर्दी पर बॉडीवार्न कैमरे लगने से उनकी अलर्टनेस पहले से अधिक बढ़ गई है।

कोराेनाकाल में स्पेशल ट्रेनों में यात्री सुरक्षा व कोरोना संक्रमण के नियमों के पालन पर नजर रखने में आरपीएफ की वर्दी पर लगे बॉडीवार्न कैमरे मददगार साबित हो रहे हैं। वर्दी पर कैमरे लगने से एक तरफ जहां आरपीएफ के जवान ट्रेनों में एस्काॅर्टिंग अधिक मुस्तैदी से कर रहे हैं।

Related Articles