News Narmadanchal

एलएसी पर तैनात हुई भारत की सबसे खतरनाक मिसाइल, चीन के लिए बनेगी काल

एलएसी पर तैनात हुई भारत की सबसे खतरनाक मिसाइल, चीन के लिए बनेगी कालएलएसी पर तैनात हुई भारत की सबसे खतरनाक मिसाइल, चीन के लिए बनेगी काल

लद्दाख सीमा पर भारत-चीन विवाद के बीच भारत ने अपनी सबसे खतरनाक मिसाइल एलएसी पर तैनात की है। निर्भय क्रूज नाम की ये मिसाइल एक हजार किमी तक के अपने लक्ष्य को आसानी से भेद सकती है। बता दें कि इस मिसाइल के पास तिब्बत में मौजूद चीन के ठिकानों को भी तबाह करने की शक्ति है।

इस मिसाइल की खासियत

1. लक्ष्य को बिना भटके भेद पाने में सक्षम

2. इसकी लंबाई 6 मीटर और चौड़ाई 0.52 मीटर है।

3. इसकी स्पीड 0.6-0.7 मैक है।

4. इसका वजन 1500 किलोग्राम है।

5. 1000 किमी तक आसानी से वार कर सकता है।

इसके अलावा इस मिसाइल की सबसे बड़ी खासियत है कि इसे भारत में ही डिजाइन किया गया है। इतना ही नहीं, भारत में ही इसे तैयार भी किया गया है। बता दें कि इस मिसाइल का परीक्षण पहली बार 12 मार्च 2013 में किया गया था। इस मिसाइल के बारे में ये भी जानकारी मिली है कि पहले चरण में यह सीधे आसमान में जाती है, जबकि दूसरे चरण के लिए यह खुद को 90 डिग्री मोड़ लेती है।

टैंक और इंफेंट्री कॉम्बेट व्हीकल भी तैनात

इसके अलावा भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख के चुमार-डेमचोक क्षेत्र में एलएसी के पास टैंक और इंफेंट्री कॉम्बेट व्हीकल को तैनात कर दिया है। इन टैंकों को तैनात करने का मुख्य उद्देश्य मौसम है। क्योंकि आने वाले दिनों में लद्दाख के कई इलाके बर्फ से ढ़क जाएंगे। जिसकी वजह से कई तरह की समस्याएं होंगी। इसी को देखते हुए भारतीय सेना ने पहले से ही तैयारी करते हुए एलएसी के पास माइनस 40 डिग्री सेल्सियस तक तापमान पर काम करने के लिए इन टैंकों और वाहनों की तैनाती की है।

लद्दाख सीमा पर भारत-चीन विवाद के बीच भारत ने अपनी सबसे खतरनाक मिसाइल एलएसी पर तैनात की है। निर्भय क्रूज नाम की ये मिसाइल एक हजार किमी तक के अपने लक्ष्य को आसानी से भेद सकती है।

Related Articles