News Narmadanchal
एशियन ग्रेनिटो इन्डिया लिमिटेड ने गुजरात के मोरबी में 15,000 वर्ग फीट में एजीएल एक्सपोर्ट हाउस शुरु किया

एशियन ग्रेनिटो इन्डिया लिमिटेड ने गुजरात के मोरबी में 15,000 वर्ग फीट में एजीएल एक्सपोर्ट हाउस शुरु किया

अहमदाबाद।  भारत की शीर्षस्थ टाइल्स कंपनीओ में शामिल एशियन ग्रेनिटो इन्डिया लिमिटेड ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 151वीं जन्मतिथि के अवसर पर गुजरात के मोरबी में वांकानेर स्थित एजीएल एक्सपोर्ट हाउस शुरु किया है। 15,000 वर्ग फिट विस्तार में फैले यह एक्सपोर्ट हाउस के साथ कंपनी एक ही जगह से उसकी प्रोडक्शन और टेक्नोलोजिकल निपुणता का प्रदर्शन करेगी। यह एक्सपोर्ट हाउस में हरेक साइज, डिजाइन्स और फिनिशवाली 3,000 से ज्यादा प्रोडक्ट्स समेत टाइल्स, सेनिटरीवेर और बाथवेर रेन्ज की संपूर्ण श्रेणी रहेगी जो कि विश्वभर के ट्रेड पार्टनर्स देख सकेंगे। यह एक्सपोर्ट हाउस के साथ कंपनी आंतरराष्ट्रीय बाजारों में अपनी उपस्थिति मजबूत बनाना चाहती है। एजीएल 100 से ज्यादा देशो में निर्यात करती है और अपना निर्यात नेटवर्क बढाना चाहती है।
यह एक्सपोर्ट हाउस कंपनी के सबसे बडे शोरूम्स में से एक है और देश के सबसे बडे टाइल्स क्लस्टर माने जाने वाले गुजरात के मोरबी में स्थित है। इस शोरूम में सिरामिक फ्लोर, डिजिटल वोल, विट्रिफाइड, पार्किंग, पोर्शलेन, ग्लेज्ड विट्रिफाइड, आउटडोर, नेचरल मार्बल, कम्पोजिट मार्बल और क्वार्टज समेत एक्सक्लुजिव और आकर्षक श्रेणी उपलब्ध होगी। यहां फोसेट्स समेत हाल ही में लोन्च की गई सेनिटरीवेर और बाथवेर रेन्ज भी प्रदर्शित की जाएगी।
इस प्रसंग पर एशियन ग्रेनिटो इन्डिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक श्री कमलेश पटेल ने बताया कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जन्मतिथि के दिन इस शोरूम को लोन्च करते हुए हमें आनंद की अनुभूति हो रही है। विश्वसनीयता, स्वीकार्यता और नवोन्मेष के लिए लोगों का भरोसा जीतनेवाली हमारी कंपनी ने भारत में ही निर्मित उत्पादों के लिए अपनी मजबूत पहचान बनाई है। हमारे उत्पाद 100 से ज्यादा देशों में निर्यात होते है। सिरामिक टाइल्स और सेनिटरीवेर उत्पादों के लिए मोरबी देश का मुख्य केन्द्र माना जाता है।. यहां 1,000 से ज्यादा उत्पादन इकाईयां के साथ देश के कुल उत्पादन के 70 प्रतिशत सिरामिक उत्पादों का उत्पादन होता है। विश्वभर के व्यापार भागीदार और व्यावसायिक समुदाय व्यापार-धंधे के लिए इस शहर की मुलाकात लेते रहते है। यह डिस्प्ले शोरूम में एक ही जगह से ग्राहको को अपनी पसंद के मुताबिक सारी उत्पाद श्रेणी देखने को मिलेगी। साथ ही, दुनियाभर के ग्राहको को हमारी उत्पादन और तकनीकी विशेषज्ञता भी देखने मिलेगी।
सिरामिक उत्पादों के लिए गुजरात विश्वभर में सबसे बडे केन्द्रों में जाना जाता है। देश के कुल सिरामीक उत्पादन में गुजरात का हिस्सा 80 प्रतिशत से ज्यादा है. यहां हर साल रु. 40,000 करोड का कारोबार और रु. 12,000 करोड से ज्यादा की निर्यात होती है।
कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री मुकेश पटेलने बताया कि एशियन ग्रेनिटो भारत की संगठित टाइल कंपनीओं में सबसे बडी निर्यातकार कंपनी है। कंपनी सब के लिए मकान, स्वच्छ भारत और ग्रामीण विकास जैसे प्रोजेक्ट्स के लिए प्रतिबद्ध है। वोकल फोर लोकल सूत्र को सार्थक करते कंपनी ने हाल ही में आत्मनिर्भर कार्यक्रम शुरु किया है।
एजीएल ग्लोबल ट्रेड प्राइवेट लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक श्री प्रफुल्ला गट्टानी ने बताया कि कोविड-19 के चुनौतीभरे समय के बावजूद अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मांग मजबूत रही है जिससे भारत के सिरामिक उद्योग में नई शक्ति का संचार हुआ है। पिछले तीन महिने से निर्यात दोगुनी बढी है। अमेरिका और चीन के बीच चल रहे तनाव को देखते निर्यात में बढौतरी हो रही है। चीन के खिलाफ बन रहे माहौल और गेस की किंमतो में हुई कटौती को निर्यात के द्रष्टिकोण से देखे तो यह भारत के सिरामिक उद्योग के लिए गेम चेन्जर साबित होगा।

अहमदाबाद।  भारत की शीर्षस्थ टाइल्स कंपनीओ में शामिल एशियन ग्रेनिटो इन्डिया लिमिटेड ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 151वीं जन्मतिथि के अवसर पर गुजरात के मोरबी में वांकानेर स्थित एजीएल एक्सपोर्ट हाउस शुरु किया है। 15,000 वर्ग फिट विस्तार में फैले यह एक्सपोर्ट हाउस के साथ कंपनी एक ही जगह से उसकी प्रोडक्शन और टेक्नोलोजिकल निपुणता

Related Articles