News Narmadanchal
कुल्लू-मनाली के 200 होटल फिर बंद

कुल्लू-मनाली के 200 होटल फिर बंद

कुल्लू, बिच्छू डॉट कॉम। कुल्लू-मनाली में खुलने के एक माह बाद ही 200 होटल फिर बंद हो गए हैं। जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और सैलानियों का न आना इसका कारण बताया जा रहा है। इसका सबसे ज्यादा असर पर्यटन नगरी मनाली में पड़ा है। जहां करीब 100 मध्यम और छोटे स्तर के होटलों पर ताला जड़ दिया है। वहीं, जिला कुल्लू में पिछले आठ माह से डेढ़ हजार से अधिक होटल और होम स्टे बंद पड़े हैं। ये होटलियर कोरोना की वैक्सीन आने तक अपने होटलों को खोलना नहीं चाहते। हालांकि, बर्फबारी के बाद मनाली में पर्यटकों की ऑक्यूपेंसी बढ़ी है लेकिन, छोटे व मीडियम स्तर के होटलों की ऑक्यूपेंसी अभी भी शून्य के आसपास है। उधर, जिला कुल्लू के साथ ऊझी घाटी में कोरोना के मामले तेजी से बढऩे लगे हैं। यही वजह है कि मनाली के स्थानीय होटलियरों ने अपने परिवार की सुरक्षा को देखते हुए कारोबार को बंद कर ताला लगा दिया है। कसोल के साथ तीर्थन और जिभी घाटी में भी 120 होटल और होम स्टे में से 40 फीसदी पर्यटन गतिविधियों को बंद करना पड़ा है। जबकि, 20 फीसदी होटल व होम स्टे आठ माह से ही नहीं खोले गए। तीर्थन वैली होटल एसोसिएशन के प्रधान वरुण भारती ने कहा कि पर्यटकों के न आने से तीर्थन घाटी में 30 होम स्टे को बंद किया गया है और लोगों ने इसके बदले कृषि व बागवानी पर फोकस करना शुरू कर दिया है।
जिले में आठ माह से 1500 से अधिक होटल बंद
जिला कुुल्लू में आठ माह से 1500 से ज्यादा होटल और होम स्टे बंद पड़े हैं। अब एक माह पहले खोले होटल भी कोरोना के डर और सैलानियों के न आने से बंद होते जा रहे हैं।

The post कुल्लू-मनाली के 200 होटल फिर बंद appeared first on Bichhu.com.

कुल्लू, बिच्छू डॉट कॉम। कुल्लू-मनाली में खुलने के एक माह बाद ही 200 होटल फिर बंद हो गए हैं। जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और सैलानियों का न आना इसका कारण बताया जा रहा है। इसका सबसे ज्यादा असर पर्यटन नगरी मनाली में पड़ा है। जहां करीब 100 मध्यम और छोटे स्तर के
The post कुल्लू-मनाली के 200 होटल फिर बंद appeared first on Bichhu.com.

Related Articles