News Narmadanchal
कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन : केंद्र सरकार को घेरने 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे किसान

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन : केंद्र सरकार को घेरने 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे किसान

दिल्ली आएंगे किसान

दिल्ली आएंगे किसान

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। पंजाब में तो इन प्रदर्शनों ने विकराल रूप ले रखा है। किसान केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर विरोध कर रहे हैं। वहीं अब किसान ‘दिल्ली चलो’ मार्च के तहत राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाले पांच राजमार्गों से होते हुए 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे।

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, राष्ट्रीय किसान महासंघ और भारतीय किसान संघ के विभिन्न धड़ों ने तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने के लिये केन्द्र सरकार पर दबाव बनाने के उद्देश्य से साथ मिलकर संयुक्त किसान मोर्चा बनाया है। इस मोर्चे को 500 से अधिक किसान संगठनों का समर्थन हासिल है। विभिन्न किसान नेताओं ने 26 नवंबर के दिल्ली चलो मार्च के संबंध में बृहस्पतिवार को यहां बैठक की। मोर्चे के कामकाज में समन्वय बनाए रखने के लिये सात सदस्यीय समिति का भी गठन किया गया है।

कहां कहां पहुंचेंगे किसान

समिति के सदस्य तथा स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेन्द्र यादव ने यहां मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 26 नवंबर किसान पांच राजमार्गों अमृतसर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग (कुंडली सीमा), हिसार-दिल्ली राजमार्ग (बहादुरगढ़), जयपुर-दिल्ली राजमार्ग (धारूहेड़ा), बरेली-दिल्ली राजमार्ग (हापुड़) और आगरा-दिल्ली राजमार्ग (बल्लभगढ़) से होते हुए शांतिपूर्वक दिल्ली की ओर बढेंगे। बता दें कि अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, राष्ट्रीय किसान महासंघ और भारतीय किसान संघ के विभिन्न धड़ों ने तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने के लिये केन्द्र सरकार पर दबाव बनाने के उद्देश्य से साथ मिलकर संयुक्त किसान मोर्चा बनाया है। 

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। पंजाब में तो इन प्रदर्शनों ने विकराल रूप ले रखा है। किसान केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर विरोध कर रहे हैं। वहीं अब किसान ‘दिल्ली चलो’ मार्च के तहत राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाले पांच राजमार्गों से होते हुए 26 नवंबर को दिल्ली पहुंचेंगे।

Related Articles