News Narmadanchal
कैथल का बेस्ट कंडक्टर है सतीश कुमार कौलेखां, जो सीटी बजाकर कर देता रोडवेज को मालामाल

कैथल का बेस्ट कंडक्टर है सतीश कुमार कौलेखां, जो सीटी बजाकर कर देता रोडवेज को मालामाल

यातायात प्रबंधक कमलजीत सतीश कुमार को 2019-20 का बेस्ट परिचालक का अवार्ड देकर सम्मानित करते हुए।

यातायात प्रबंधक कमलजीत सतीश कुमार को 2019-20 का बेस्ट परिचालक का अवार्ड देकर सम्मानित करते हुए।

सूरज सहारण. कैथल। देश प्रेम व समाजसेवा के लिए जरूरी नहीं है कि सेना में भर्ती हों। देश प्रेम व समाजसेवा कहीं भी रहकर की जा सकती है। कुछ ऐसी ही सोच के धनी हैं कौलेखां के सतीश कुमार। कैथल रोडवेज (Roadways) में परिचालक के पद पर कार्यरत अपनी ईमानदार छवि और डूयटी के प्रति समर्पण भाव को लेकर सतीश कुमार को दो बार हरियाणा रोडवेज कैथल का बेस्ट परिचालक का अवार्ड देकर सम्मानित किया जा चुका है।

कर्मचारियों में मिलनसार स्वभाव के धनी सतीश कुमार आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने यह सम्मान मात्र तीन साल में ही हासिल कर लिया है। हाल ही में सतीश कुमार को कैथल के यातायात प्रबंधक कमलजीत ने 2019-20 का बेस्ट परिचालक का अवार्ड देकर सम्मानित किया।

इससे पूर्व उन्हें 2018-19 का भी बेस्ट परिचालक का अवार्ड मिला था। लगातार अवार्ड मिलने से सतीश कुमार के साथ-साथ उनके परिजनों व समर्थकों में खुशी देखी जा रही है। सतीश कुमार अपने बेटा व बेटी को भी ईमानदारी का पाठ पढ़ा रहे हैं।

40 हजार रुपये तक दी रिसीप्ट

सतीश कुमार ने बताया कि वह 2017 में रोडवेज में बतौर परिचालक भर्ती हुए थे। शुरुआती दौर से ही उन्होंने ईमानदारी व समर्पण भाव से कार्य करने की ठानी थी। वे अधिकतर कैथल से दिल्ली रूट पर चले हैं। इस दौरान उन्होंने विभाग को करीब 40 हजार रुपये प्रतिदिन की रिसीप्ट दी है।

गर्मी में यात्रियों को पिलाते हैं कैंपर से ठंडा पानी

सतीश कुमार जिस भी चालक व बस के साथ डयूटी करते हैं तो अपना पानी का केंपर साथ रखते हैं। बस को अपनी रोजी रोटी समझने वाले सतीश कुमार प्रतिदिन बस की अच्छे ढंग से सफाई करते हैं। वे टिकट काटने के बाद सभी यात्रियों को कैंपर से पानी पिलाते हैं। गर्मी में वे यात्रियों को ठंडा पानी पिलाते हैं।

हाल ही में सतीश कुमार (Satish Kumar) को कैथल के यातायात प्रबंधक कमलजीत ने 2019-20 का बेस्ट परिचालक का अवार्ड देकर सम्मानित किया।

Related Articles