News Narmadanchal
कॉलेज से हेयर सैलून तक लव जेहाद की जड़, बास दूदा से धारूहेड़ा पहुंची लव जेहाद की चिंगारी

कॉलेज से हेयर सैलून तक लव जेहाद की जड़, बास दूदा से धारूहेड़ा पहुंची लव जेहाद की चिंगारी

हरिभूमि न्यूज. रेवाड़ी। फरीदबाद में लव जेहाद में हुई कॉलेज छात्रा की हत्या के बाद रेवाड़ी में कॉलेज से हेयर सैलून तक लव जेहाद की जड़े दिखाई देने लगी हैं। अक्टूबर माह में खोल थाना क्षेत्र के गांव बास दूदा से शुरू हुई लव जेहाद की चिंगारी शनिवार को उद्योगिक कस्बे धारूहेड़ा तक पहुंच गई है।

दो माह की अवधि में एक नाबालिग सहित दो युवतियों का प्रेम प्रसंग सामने आने की घटनाओं ने नई चर्चाओं को जन्म दे दिया है। जिसकी गूंज आने वाले दिनों में दूर तक सुनाई दे सकती हैं।

प्रदेश में मुस्लिमों का गढ़ माने जाने वाले रेवाड़ी में भले ही मुस्लिम आबादी ज्यादा न हो, परंतु शहर का कोई भी कोना मुस्लिमों से अछूता नहीं है। हेयर शैलून की अधिकतर दुकानों पर मुस्लिम युवक काम करते हैं। जिनमें से अधिकतर ने अपने असली नाम छुपाकर हिंदू नाम रखे हुए हैं।

बावजूद इसके इन दो मामलो को छोड़कर जिले में लव जेहाद की चर्चाएं शायद ही कभी सुनने को मिली हो। भले ही पुलिस व प्रशासन के पास इसका कोई लेखा- जोखा नहीं हो, परंतु इसकी चर्चाएं अक्सर लोगों के मुंह से सुनने को मिलती है। जिससे शहर की आबादी में मुस्लिम युवकों की उपस्थित का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ऐसे में देखना होगा कि अभी तक लव जेहाद का मामला मानने से इंकार करने वाली पुलिस पूर्व की भांति इस मामले को भी स्वीकार कर पाती है या नहीं।

घर के नौकर पर लगे थे आरोप

नवंबर माह के दौरान गांव बास दूदा से लापता हुई नाबालिग के मामले में आरोप मेवात के रहने वाले घर के नौकर पर ही आरोप लगे थे। इस मामले में पुलिस ने आरोपित को तो सूरत से गिरफ्तार कर लिया था, परंतु लापता नाबालिग का पुलिस अभी तक कोई सुराग नहीं लगा पाई है।

रिमांड अवधि के दौरान आरोपित की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद यह मामला शांत हो गया था, परंतु ताजा मामला सामने आने के बाद एक बार फिर इस मामले की यादें ताजा होने लगी हैं।

दोस्ती में घर तक बनाई पहुंच

खरखड़ा कॉलेज में द्वितीय वर्ष की छात्रा बालिग होने के कारण इस मामले में भले ही लव जेहाद का एंगल साबित करना अभी कठिन लग रहा हो, परंतु छात्रा के परिजनों के आरोपों को सच माना जाए तो नाम छुपाकर किसी को अपने प्रेम जाल में फंसाना किसी न किसी प्रकार से लव जेहाद की तरफ ही इशारा करता है। माता-पिता की गैर मौजूदगी में दोस्तों के साथ छात्रा को घर से बुलाकर ले जाने के आरोपों से परिजनों की तरफ से लगाए गए लव जेहाद के आरोपों को पूरी तरह से खारिज भी नहीं किया जा सकता।

दो माह की अवधि में एक नाबालिग सहित दो युवतियों का प्रेम प्रसंग सामने आने की घटनाओं (Events) ने नई चर्चाओं को जन्म दे दिया है। जिसकी गूंज आने वाले दिनों में दूर तक सुनाई दे सकती हैं।

Related Articles