News Narmadanchal
कोरोना के बाद पहली बार चैंबर का कार्यक्रम, 200 लोग उपस्थित रहेंगे

कोरोना के बाद पहली बार चैंबर का कार्यक्रम, 200 लोग उपस्थित रहेंगे

कोरोना महामारी के कारण देश आर्थिक संकट का सामना कर रही है। अनलॉक के बाद अब व्यापार-व्यवसाय पुन: पटरी पर आ रही है।

कोरोना महामारी के कारण दी सदर्न गुजरात चेम्बर ऑफ कॉमर्स के पदग्रहण समारोह में विलंब हुआ था किंतु अब उप-प्रमुख पद की चुनाव पूरी होने पर बुधवार को सरसाणा में चेम्बर के कन्वेन्शन सेन्टर में पदग्रहण समारोह आयोजित होगा। इसमें प्रमुख, उप-प्रमुख, सेक्रेटरी और खजानची की आधिकारिक घोषणा की जाएगी।

एसजीसीसीआई में सामान्य तौर पर जून महीने में प्रमुख का कार्यकाल पूर्ण होता है और इसके बाद नए प्रमुख, उपप्रमुख की ताजपोशी होती है, किंतु इस बार कोरोना की महामारी ने सभी समीकरण बदल दिया है। एसजीसीसीआई के प्रमुख के तौर पर दिनेश नावडिया की वर्तमान में नियुक्ति हुई थी, किंतु उप-प्रमुख पद के लिे दावेदारी बढऩे से चुनाव करने की आवश्यकता पड़ी थी। 4 अक्टूबर रविवार को उप-प्रमुख पद की चुनाव में आशिष गुजराती मितेष मोदी को हराकर विजेता बने थे।

एसजीसीसीआई के प्रमुख दिनेश नावडिया ने कहा कि 7 अक्टूबर, बुधवार को शाम में सरसाणा में स्थित चेम्बर के प्लेटिनम हॉल में पदग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। सरकारी गाइडलाइन के अनुसार समारोह आयोजित होगा, जिसमें मेहमानों को आमंत्रण की परमिशन मिली है। इस समारोह में भाजपा के प्रदेश प्रमुख सी.आर. पाटिल, सांसद दर्शना जरदोष, कलेक्टर धवल पटेल, पालिका कमिश्नर बंछानिधि पानी और महापौर जगदीश पटेल उपस्थित रहेंगे।

एसजीसीसीआई में लगभग 7000 से अधिक सदस्य दर्ज हैं और चेम्बर दक्षिण गुजरात के उद्योगों की समस्या के संबंध में राज्य और केन्द्र सरकार में पेशकश करके उद्योगों को सहायक होने का कार्य करती है। देश में सूरत की एसजीसीसीआई ने अच्छी प्रतिष्ठा प्राप्त की है। इसके अलावा चेम्बर सेमिनारों का आयोजन करके उद्यमियों को लेटेस्ट जानकारी उपलब्ध कराने का भी काम करती है। चेम्बर का सबसे जरुरी काम उद्योगों को मदद करना है, इसके लिए चेम्बर वर्ष में 5 से 6 प्रदर्शन आयोजित करती है। इसमें स्पार्कल और उद्योग प्रदर्शन के कारण सूरत के उद्यमियों को बड़ा लाभ हुआ है।

चेम्बर के कुछ सदस्यों का कहना है कि नए नियुक्त प्रमुख और उप-प्रमुख की समयावधि बढ़ा देना चाहिए, कारण है कि वैसे भी 5 महीने का विलंब हो चुका है और कोरोना महामारी के कारण प्रदर्शन का आयोजन करना भी मुश्किल होगा, इसलिए उन्हें और एक वर्ष काम करने का अवसर देना चाहिए।

कोरोना महामारी के कारण देश आर्थिक संकट का सामना कर रही है। अनलॉक के बाद अब व्यापार-व्यवसाय पुन: पटरी पर आ रही है। कोरोना महामारी के कारण दी सदर्न गुजरात चेम्बर ऑफ कॉमर्स के पदग्रहण समारोह में विलंब हुआ था किंतु अब उप-प्रमुख पद की चुनाव पूरी होने पर बुधवार को सरसाणा में चेम्बर के

Related Articles