News Narmadanchal
गुजरात : बिना मास्क के घूम रहे पुलिस अधिकारी दंडित, 1000 रु. जुर्माना भरना पड़ा

गुजरात : बिना मास्क के घूम रहे पुलिस अधिकारी दंडित, 1000 रु. जुर्माना भरना पड़ा

कोरोना मार्गदर्शिका का पालन हुआ सख्त

गुजरात में दीवाली के बाद कोरोना के केसों में काफी इजाफा हुआ है। जिसके चलते तंत्र काफी सख्त कदम उठा रहा है। अमरेली शहर में भी कोरोना संक्रमण के चलते पुलिस तंत्र द्वारा आज मास्क के बिना घूमने वाले और सामाजिक अंतर के नियमों का पालन ना करने वाले दुकानदारों, ग्राहकों और वाहनचालकों को दंड देने की मुहिम शुरू की गई थी। जिसमे भावनगर के पुलिस इंस्पेक्टर को भी दंड भरना पड़ा था।

अमरेली शहर में दीवाली और नए साल के बाद सरकारी तंत्र हरकत में आ गया है। शहर में कोरोना गाइडलाइंस का भंग करने वाले लोगों के खिलाफ अमरेली के एसडीएम, मामलतदार, नगर निगम और पुलिस की टीमों ने शिक्षात्मक मुहिम शुरू की थी। जिसके चलते मास्क ना पहरने वाले और सामाजिक अंतर का पालन ना करने वाले लोगों के सामने कड़क कदम उठाए गए थे।

इसी दौरान भावनगर जिले में पालीताणा, महुवा शहर में पुलिस इंस्पेक्टर के तौर पर फर्ज अदा कर चुके दीपक मिश्रा अपने मेहमानों के साथ सिविल ड्रेस में अमरेली के टॉवर रोड से जा रहे थे। इस दौरान दीपक मिश्रा की कार को पुलिस और एसडीएम की टीम ने रोका था। दीपक मिश्रा ने उस समय मास्क नहीं पहना था, हालांकि पुलिस ऑफिसर होने का फायदा उठाने के बजाय दीपक मिश्रा ने अपनी भूल स्वीकारते हुए एक हजार रूपए का दंड भर दिया था।

उल्लेखनीय है कि त्यौहारों में काफी लोगों ने कोरोना मार्गदर्शिकाओं का उल्लघंन करते हुए बाजारों में भीड़ की थी। जिसके चलते दीवाली के बाद कोरोना के केसों में भारी उछाल देखने मिला था। जिसके चलते राज्य सरकार द्वारा कड़े कदम उठाए गए है।

कोरोना मार्गदर्शिका का पालन हुआ सख्त गुजरात में दीवाली के बाद कोरोना के केसों में काफी इजाफा हुआ है। जिसके चलते तंत्र काफी सख्त कदम उठा रहा है। अमरेली शहर में भी कोरोना संक्रमण के चलते पुलिस तंत्र द्वारा आज मास्क के बिना घूमने वाले और सामाजिक अंतर के नियमों का पालन ना करने वाले

Related Articles