News Narmadanchal
चंबल में फिर डकैतों की दस्तक, एसपी बोल रहे हैं- हमारे इलाके में आया तो लौटेगा नही

चंबल में फिर डकैतों की दस्तक, एसपी बोल रहे हैं- हमारे इलाके में आया तो लौटेगा नही

मुरैना। कभी डाकुओं के नाम से पहचाने जाने वाले चम्बल में वैसे तो कोई अब बड़ा डकैत गिरोह बचा नही है, लेकिन पुलिस से छुपने के लिए राजस्थान, उत्तर प्रदेश से इनामी डकैत अपनी शरण स्थली चम्बल के बीहड़ों को बना लेते हैं। ऐसे ही राजस्थान का रहने वाला एक लाख 20 हजार रुपए का इनामी डकैत केशव गुर्जर ने चंबल के बीहड़ों में अपना बसेरा बना लिया है। अभी एक दिन पहिले ही राजस्थान पुलिस और डकैत केशव गुर्जर के बीच बीहड़ों में मुठभेड़ हुई। इसमें केशव गुर्जर के कुछ साथी घायल भी हुए थे। लेकिन डकैत केशव सिंह गुर्जर पुलिस को चकमा देकर मौके से फरार हो गया। अब राजस्थान पुलिस को आशंका है कि इनामी डकैत केशव सिंह गुर्जर मुरैना जिले के चंबल इलाके में कही छुपा हुआ है, जिसके बाद राजस्थान पुलिस ने चंबल पुलिस के आला अफसरों से बात की है।

पुलिस के लिए बड़ी चुनौती : इनामी डकैत केशव सिंह के अलावा 60 हजार का इनामी डकैत गुड्डा गुर्जर भी पहले से ही पहाड़गढ़ इलाके में दस्तक दे चुका है। गुड्डडा गुर्जर ने अभी कुछ दिन पहले मधुमक्खी पालन करने वाले किसान के साथ लूटपाट की थी। अब ये दोनों इनामी डकैत चम्बल पुलिस के लिये सिरदर्द बन चुके हैं।

मुरैना के एसपी अनुराग सुजानिया कहते हैं, इनामी डकैत केशव की मुड़भेड़ राजस्थान पुलिस से हुई है, यह बात सही है। अभी डकैत गिरोह का मूवमेंट कहाँ है, इसे लेकर कुछ कहा नही जा सकता। हमारी पूरी तैयारी है। चम्बल के बीहड़ों में पुलिस टीमें सर्चिंग कर रही है। आईजी साहब के निर्देश पर मुरैना, भिंड और श्योपुर पुलिस अलर्ट है। अगर वह हमारे क्षेत्र में प्रवेश करेगा तो वापिस नही लौटेगा।

डकैत गुड्डा गुर्जर भी पहले से ही पहाड़गढ़ इलाके में दस्तक दे चुका है। गुड्डडा गुर्जर ने अभी कुछ दिन पहले मधुमक्खी पालन करने वाले किसान के साथ लूटपाट की थी। पढ़िए पूरी खबर-[#item_full_content]

Related Articles