News Narmadanchal
जन-अदालत में की दो युवकों की हत्या, गांव में पसरा सन्नाटा

जन-अदालत में की दो युवकों की हत्या, गांव में पसरा सन्नाटा

दोरनापाल. प्रदेश के नक्सल प्रभावित जिला सुकमा में नक्सलियों ने एक बार फिर नक्सल वारदात को अंजाम देते गांव में ही जन अदालत लगाकर दो युवकों की बेरहमी से हत्या कर दी है। इस वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने प्रेस नोट भी जारी किया है, जिसमें नक्सलियों ने हत्या की जिम्मेदारी ली है।

मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने 17 नवंबर को वारदात को अंजाम दिया। जानकारी के मुताबिक, दोनों युवकों के खिलाफ नक्सलियों ने मुखबिरी करने का आरोप लगाया था। इसके बाद जन-अदालत लगाकर दोनों की हत्या कर दी। हत्या के बाद किस्टाराम एरिया कमेटी ने प्रेस नोट जारी करते हुए हत्या की जिम्मेदारी ली। स्थानीय पुलिस को आज दो युवकों के हत्या के बारे में सूचना मिली। पुलिस ने शव बरामद कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने नक्सलियों द्वारा जारी किए गए प्रेस नोट को बरामद किया है। इस वारदात के बाद आसपास के गांवों में सन्नाटा पसर गया है।

दोनों युवकों की सूचना पर मारे गए कई नक्सली

नक्सलियों ने दावा किया है कि बड़े केड़वाल गांव निवासी पोड़ियम बलराम साल 2013 से जीआरजी फोर्स के संपर्क में था। वह गांव में रहकर जवानों को सूचना देता था। आरोप लगाया कि जवानों ने उसे 15 हजार रुपए का लालच दिया था। दिसंबर 2019 को पोड़ियम की मुखबिरी के चलते चिंतागुफा व भेज्जी क्षेत्र में डीआरजी, कोरबा, एसटीएफ, सीआरपीएफ ने मिलकर हमला किया, इसमें 8 नक्सली मारे गए।

दो नक्सली गिरफ्तार

बीजापुर. केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल 85 बटालियन एवं कोतवाली पुलिस की संयुक्त पुलिस पार्टी द्वारा 24 बड़े नक्सल घटनाओं में शामिल मद्देड़ एसीएम कोरसा दशरू जिस पर पांच लाख का ईनाम था को गिरफ्तार किया है। वहीं अपहरण,लूट एवं मारपीट की घटना में शामिल एक अन्य नक्सली को भी गिरफ्तार किया गया है। जिले में चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत शुक्रवार को थाना बीजापुर एवं केरिपु 85वीं बटालियन का संयुक्त बल सावनार, कोरचोली की ओर निकला था। अभियान के दौरान मुखबीर से मिली सूचना पर सावनार से मद्देड़ एरिया कमेटी के एसीएम कोरसा दसरू उर्फ सुरेश पिता स्व मासा उम्र 45 वर्ष निवासी सावनार थाना गंगालूर को पकड़ने में सफलता मिली। पकड़े गये नक्सली के विरूद्ध जिले के अलग-अलग थानों में हत्या, हत्या का प्रयास, मारपीट, लूट, आगजनी साहित आर्म्स एक्ट, लोक सम्पत्ति क्षति निवारण अधिनियम सहित कुल 24 अपराध पंजीबद्ध है। इसके अलावा जिले के थानों में इसके विरूद्ध कुल 17 स्थाई वारंट लंबित पाये गये। पकड़े गये नक्सली मद्देड़ एरिया कमेटी का सक्रिय सदस्य है जो वर्ष 2006 से लगातार संगठन में सक्रिय है। छग शासन की ईनाम नीति के तहत गिरफ्तार नक्सली के विरूद्ध 5 लाख का ईनाम घोषित है। विधिवत कार्यवाही उपरान्त रिमाण्ड पर न्यायालय बीजापुर में पेश किया गया। अन्य एक मामले में शनिवार को थाना उसूर से जिला बल एवं केरिपु 229/एफ समवाय का बल नक्सल विरोधी अभियान के तहत नड़पल्ली, गलगम की ओर निकली थी। गलगम से एक नक्सली सत्यम कट्टम पिता चन्दरू उम्र 31 वर्ष निवासी स्कूलपारा गलगम को पकड़ा गया। जो थाना उसूर क्षेत्रान्तर्गत गलगम से 12 सितंबर 2020 को ग्रामीण कट्टम रामैया के घर से राशन सामग्री, बर्तन, मवेशी लूट कर ले जाने एवं मारपीट करने की घटना में शामिल था। पकड़े गये नक्सली के विरूद्ध थाना उसूर में विधिवत कार्यवाही उपरान्त रिमाण्ड पर न्यायालय बीजापुर में पेश किया गया।

प्रदेश के नक्सल प्रभावित जिला सुकमा में नक्सलियों ने एक बार फिर नक्सल वारदात को अंजाम देते गांव में ही जन अदालत लगाकर दो युवकों की बेरहमी से हत्या कर दी है। इस वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने प्रेस नोट भी जारी किया है, जिसमें नक्सलियों ने हत्या की जिम्मेदारी ली है।

Related Articles