News Narmadanchal
जेब में रखी अधूरे नंबर की पर्ची से लावारिस लाश को मिला वारिस

जेब में रखी अधूरे नंबर की पर्ची से लावारिस लाश को मिला वारिस

नाका चंद्रवदनी निवासी कपिल ने मृतक की पहचान अपने बड़े भाई कैलाश राठौर के रूप में की।

कपिल का भाई तीन दिन से गायब था
ग्वालियर, बिच्छू डॉट कॉम। एक पर्ची पर लिखे अधूरे नंबर ने लावारिस लाश को उसके वारिस तक पहुंचा दिया। जेएएच के पोस्टमार्टम हाउस में तीन दिन से लावारिस रखी लाश का गुरुवार को पोस्टमार्टम होना था। अज्ञात मृतक का हुलिया देखकर डॉक्टर और एक सिपाही को लगा कि यह लावारिस नहीं हो सकता। जेब में मिली पर्ची पर लिखे अधूरे नंबर के आधार पर करीब 200 से अधिक कॉल किए। आखिरकार उन्होंने मृतक के स्वजन को खोज लिया। डॉक्टर व सिपाही के प्रयास से एक मृतक का अंतिम संस्कार उसके स्वजन के हाथों हो सकेगा।
अज्ञात भर्ती हुआ और मरा भी: 45 वर्षीय एक व्यक्ति 28 सितंबर को जेएएच के अज्ञात वार्ड में भर्ती हुआ था। यहां 29 सितंबर को उसकी मौत हो गई। उसके शव को पुलिस ने पीएम हाउस में अज्ञात के रूप में रख दिया। पुलिस ने मृतक के स्वजनों का पता लगाने का प्रयास किया, पर सफलता नहीं मिली।
तलाशी ली या नहीं-कंपू थाना का आरक्षक विष्णु गुरुवार को मृतक के शव का पोस्टमार्टम संबंधी पत्र लेकर पीएम हाउस पहुंचा। डॉ. चंद्रशेखर बाघमारे ने आरक्षक विष्णु से जब पूछा कि मृतक ने जो कपड़े पहन रखे हैं उनकी तलाशी ली या नहीं। आरक्षक ने इन्कार कर दिया तो डॉक्टर के कहने पर मृतक के कपड़ों की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान कपड़ों में एक कागज की पर्ची निकली। इस पर कुछ फोन नंबर लिखे हुए थे। एक नंबर ऐसा था, जिसके बीच के कुछ नंबर गायब थे।
200 लोगों को फोन लगाए- डॉक्टर ने सिपाही की मदद से मोबाइल नंबर के बीच से गायब नंबर को मिलान करने के लिए करीब 200 लोगों को फोन लगाए। इसके बाद एक व्यक्ति ने बताया कि उसका भाई तीन दिन से गायब है। उस व्यक्ति ने अपना नाम कपिल निवासी नाका चंद्रवदनी बताया। जब कपिल पोस्टमार्टम हाउस पहुंचा तो उसने मृतक की पहचान अपने बड़े भाई कैलाश राठौर के रूप में की। जेएएच के फोरेंसिक विभाग के डॉ. चंद्रशेखर बाघमारे ने बताया कि मृतक का शव देखने से ऐसा नहीं लग रहा था कि वह लावारिस होगा। उसके कपड़ों से मिली पर्ची पर एक मोबाइल नंबर लिखा था, जिसके बीच के कुछ नंबर गायब थे। करीब 200 फोन लगाए, अंतत: उसके स्वजन का पता लग गया।

The post जेब में रखी अधूरे नंबर की पर्ची से लावारिस लाश को मिला वारिस appeared first on Bichhu.com.

कपिल का भाई तीन दिन से गायब थाग्वालियर, बिच्छू डॉट कॉम। एक पर्ची पर लिखे अधूरे नंबर ने लावारिस लाश को उसके वारिस तक पहुंचा दिया। जेएएच के पोस्टमार्टम हाउस में तीन दिन से लावारिस रखी लाश का गुरुवार को पोस्टमार्टम होना था। अज्ञात मृतक का हुलिया देखकर डॉक्टर और एक सिपाही को लगा कि
The post जेब में रखी अधूरे नंबर की पर्ची से लावारिस लाश को मिला वारिस appeared first on Bichhu.com.

Related Articles