News Narmadanchal

ठेकेदारों संग मिलकर खेले जा रहे टेंडरों के खेल, इस बार नप को साढ़े 57 लाख की चपत

बहादुरगढ़। टेंडर घोटाले के दस्तावेज दिखाते कपूर राठी, शशि कुमार व रोहित।

बहादुरगढ़। टेंडर घोटाले के दस्तावेज दिखाते कपूर राठी, शशि कुमार व रोहित।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़। ठेकेदारों से मिलीभगत के कारण नगर परिषद को केवल दो ही टेंडरों में लगभग एक करोड़ 27 लाख की चपत लग गई है। दो दिन पहले जहां भाजपा पार्षद नीना सतपाल राठी व सुरेंद्र चुघ ने टेंडर नंबर-1200 में करीब 70 लाख रुपए के नुकसान का खुलासा किया था।

शनिवार को इनेलो से जुड़ी पार्षद मोनिका राठी के पति कपूर राठी, पार्षद शशि कुमार व पार्षद राममूर्ति के पुत्र रोहित ने टेंडर संख्या-1202 में लगभग साढ़े 57 लाख रुपए के नुकसान का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि टेंडरों में अबॉव रेट के खेल के बहाने नगर परिषद को कंगाल करने का षडयंत्र रचा जा रहा है। इसकी उच्चस्तरीय निष्पक्ष जांच करवाते हुए दोषियों को दंडित किया जाना चाहिए। इस अवसर पर मास्टर सुखबीर सरोहा, अमित बराहना, विनय राणा, विपिन टाक व सूरजमल दलाल आदि भी मौजूद रहे।

दो कंपनी रिजेक्ट कर दी

पार्षद शशि कुमार, कपूर राठी व रोहित आदि ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि बहादुरगढ़ नगर परिषद में इन दिनों विकास के बहाने ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने के लिए जनता के खून पसीने की कमाई को अबॉव रेट के टेंडर छोड़ कर लूटा जा रहा है।

केवल दो टेंडरों के अबॉव रेट के खेल की वजह से नगर परिषद को एक ही कंपनी को निर्धारित लागत से लगभग 1 करोड़ 27 लाख रुपए अधिक देने पडे़ंगे। टेंडर संख्या 1202 भी एलएमके को अलॉट करने के लिए राजेश एंटरप्राईजेज व विक्रो इंजीकॉन्स सर्विसेज की निविदाएं रिजेक्ट की गई। टेंडर 1200 की भांति दो ही कंपनियां मैदान में रह गई।

नियम का नहीं हो रहा उल्लंघन

नगर परिषद द्वारा सरकार की हिदायत अनुसार ई-टेंडर किए जा रहे हैं। सबसे कम रेट देने वाली एजेंसी से मोलभाव कर काम अलॉट किया जाता है। नियमों का कोई उल्लंघन नहीं किया जा रहा। – नवीन धनखड़, कार्यकारी अभियंता, नगर परिषद

शनिवार को इनेलो से जुड़ी पार्षद (Councilor)मोनिका राठी के पति कपूर राठी, पार्षद शशि कुमार व पार्षद राममूर्ति के पुत्र रोहित ने टेंडर संख्या-1202 में लगभग साढ़े 57 लाख रुपए के नुकसान का खुलासा किया।

Related Articles