News Narmadanchal

दुनिया के वैक्सीन बाजार के कब्जा करने ये खतरनाक चाल चल रहा चीन

कोरोना नाम की महामारी चीन से निकलकर पूरे विश्व में फैल गई। इसके वैक्सीन बनाने को लेकर भी देशों में एकता दिख रहा है।

चीन के वुहान शहर से फैली कोरोना वायरस नामक घातक बीमारी ने पूरे विश्व में डेरा जमा दिया । इसके कारण करोड़ों लोग प्रभावित हुए हैं। कोरोना वायरस के कारण मानो दुनिया की गति ही थम गई है और चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई है। कोरोना वायरस की महामारी फैले हुए 1 वर्ष व्यतीत होने को है किंतु अभी तक इस बीमारी का कोई दवा या वैक्सीन नहीं मिल सका है।

लोगों को कोरोना वायरस से सावधान रहने की और बिना जरुरी घर से बाहर नहीं निकलने का आग्रह रखना यही कोरोना का वर्तमान में एकमात्र उपाय दिख रहा है। कोरोना की वैक्सीन बनाने के कार्य में कई देश जुड़े हैं। रशिया, अमेरिका और चीन समेत कुछ देशों ने कोरोना की वैक्सीन बनाने का दावा भी किया है। अब ऐसे समाचार मिल रहे हैं कि, चीन दुनिया के वैक्सीन बाजार पर कब्जा करने की खतरनाक चाल चल रहा है।

अपने कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल पूरा किए बिना चीन वैक्सीनेशन प्रोग्राम को विस्तार देने जा रहा है। अब देश में अधिक पैमाने में लोगों को वैक्सीन लगाया जाएगा। पूरे परिणाम बिना और जल्दबाजी में बड़ी जनसंख्या को वैक्सीन देने के निर्णय को एक्सपर्ट्स खतरनाक मानते हैं।

(PC : EMS)

फायनांसियल टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार, चीन की वैक्सीन उत्पादक कंपनियां खतरनाक मार्ग अख्तियार कर दुनिया के बाजार पर हावी होना चाहती है। गत महीने ही चीनी कंपनी सिनोफार्म ने दुनिया को चौंकाते हुए एक घोषणा की थी कि लाखों चीनी लोगों को पहले ही वैक्सीन दी जा चुकी है।

जुलाई में चीनी सरकार ने 2 कोरोना वैक्सीन के सीमित उपयोग करने की स्वीकृति दी थी, जिनके तीसरे चरण का ट्रायल अभी पूरा नहीं हुआ है। ऐसा समझा जाता है कि चीन में हेल्थ वर्कर, सरकारी कर्मचारी और हाई रिस्क एरिया में यात्रा करनेवाले लोगों को शुरुआत में वैक्सीन का डोज दिया गया था।

अब चीन अपने वैक्सीन प्रोग्राम को विस्तार दे रहा है और बड़ी जनसंख्या को वैक्सीन लगाई जा रही है, जबकि एक्सपर्ट्स इसे काफी खतरनाक मानते हैं। वैक्सीन के वैश्विक बाजार में पहुंचने की जल्दबाजी के कारण चीन ऐसा निर्णय ले रहा है।

एफटी.कॉम के रिपोर्ट के अनुसार चीन के कम से कम एक राज्य में स्वास्थ्य अधिकारियों के पास ऐसी सभी कंपनियों और सरकारी विभाग के कर्मचारियों की जानकारी मांगी गई है, जो वैक्सीन लगाने के इच्छुक हैं। इन लोगों को सर्दी के पहले वैक्सीन दिया जा सकता है।

कोरोना नाम की महामारी चीन से निकलकर पूरे विश्व में फैल गई। इसके वैक्सीन बनाने को लेकर भी देशों में एकता दिख रहा है। चीन के वुहान शहर से फैली कोरोना वायरस नामक घातक बीमारी ने पूरे विश्व में डेरा जमा दिया । इसके कारण करोड़ों लोग प्रभावित हुए हैं। कोरोना वायरस के कारण मानो

Related Articles