News Narmadanchal
निलंबित एसडीओ का शव सोनीपत जेल में फंदे से लटका मिला

निलंबित एसडीओ का शव सोनीपत जेल में फंदे से लटका मिला

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

सोनीपत : जिला कारागार में दहेज हत्या के आरोपी पानीपत रिफाइनरी के निलंबित एसडीओ का शव बैरक में पंखे पर फंदा से लटका मिला है। आरोप है कि उन्होंने आत्महत्या कर ली। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मूलरूप से गांव पांची जाटान फिलहाल गन्नौर की अर्जुनपुरी कालोनी निवासी शिवभारत का शव फंदे पर लटका मिला है। आरोप है कि उन्होंने बुधवार देर शाम बैरक में पर्थ पर बाल्टी रखकर पंखे में फंदा लगा लिया। कारागार प्रशासन की सूचना पर पुलिस ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट के निगरानी में कार्रवाई करते हुए शव को नीचे उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शिवभारत को पुलिस ने 12 अक्तूबर को दहेज हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था। उनके खिलाफ पानीपत के मतलौडा के सरपंच अशोक ने मुकदमा दर्ज कराया था कि उन्होंने अपनी बेटी नीरज की शादी वर्ष 2018 में शिवभारत से की थी।

शिवभारत पानीपत रिफाइनरी में बतौर एसडीओ कार्यरत था। 10 अक्तूबर की देर रात नीरज का शव घर में फंदे पर लटका मिला था। परिजनों ने नीरज को दहेज के लिए प्रताडि़त करने का आरोप लगाया था। परिजनों ने बताया था कि शादी के बाद से ससुराल वाले उनकी बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे थे। पुलिस ने मृतका के पिता मतलौडा गांव के सरपंच अशोक के बयान पर पति शिवभारत, ससुर, जेठ, जेठानी, ननद सहित सुसराल पक्ष के 11 लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया था।

शिवभारत को पुलिस ने दहेज हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया था। उनके खिलाफ पानीपत के गांव मतलौडा के सरपंच अशोक ने केस दर्ज कराया था।

Related Articles