News Narmadanchal
पायलट की नौकरी कोरोना ने छीनी, अब यूनिफॉर्म पहन बेच रहे हैं खाना!

पायलट की नौकरी कोरोना ने छीनी, अब यूनिफॉर्म पहन बेच रहे हैं खाना!

कैप्टन की यूनिफॉर्म में खाना सर्व करने से मिली शोहरत

(Photo Credit:navbharttimes.com)

कोरोना महामारी का मानव जीवन पर गहरा असर पड़ा हैं। कोरोना के कारण बहुत से लोगों की नौकरी छूट गई तो कईयों ने अपनों को खोया। कोरोना का असर टूरिज्म इंडस्ट्री में काम करने वाले लोगों पर भी हुआ। इसके चलते आज कई लोग बेरोजगार हो गए। अब एक बार फिर लोगों की जिंदगी पटरी पर आ रही हैं। कुछ लोगों ने नए व्यवसाय की शुरुआत की है। एक ऐसे ही लोगों में मलेशियन पायलट अजरिन मोहम्मद जवावी भी शामिल हैं। कैप्टन ने एक फूड स्टॉल शुरु किया है। उनकी कोरोना वायरस के चलते नौकरी चली गई। परिवार का गुजारा चलाने के लिए उन्होंने एक फूड स्टॉल शुरू किया, जो काफी मशहूर हो गया है। यहां एक पायलट द्वारा खाना परोसना लोगों में चर्चा का विषय बना हैं।

फूड स्टॉल को दिया कैप्टन कॉर्नर नाम

(Photo Credit:navbharttimes.com)

कोरोना महामारी की वजह से एयरलाइनों के बंद होने के कारण मलेशियाई पायलट अजरीन मोहम्मद जाववी ने नौकरी खो दी। बेरोजगार होने पर उन्होंने राजधानी कुआला लंपुर के बाहरी इलाके में स्थित अपनी नूडल्स की एक छोटी सी दुकान शुरु की, जिसे कैप्टन कॉर्नर नाम दिया है। वह लजीज मलेशियाई डिशेज बेचते हैं। वे अपने काम पर जाने से पहले सफेद यूनिफॉर्म और सिर पर अपनी काले रंग की कैप्टन हैट पहनते हैं। खाने के जायका के अलावा उनका पायलट की ड्रेस पहनकर सर्विस देना लोगों यूनिक लगा। उन्होंने करीब दो दशकों तक एक पायलट के तौर पर काम किया। वे 44 साल है।

कभी हार मत मानों

(Photo Credit:navbharttimes.com)

एक फोटोग्राफर ने कैप्टन अजरीन की ड्रेस में फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। जिसे लोगों ने बहुत सराहा। उन्होंने मीडिया से कहा मुझे अपने चार बच्चों और पत्नी की खातिर नियमित आमदनी की जरूरत थी। क्योंकि मालिंडो एयर कंपनी ने कोरोना महामारी के कारण अपने कर्मचारियों की छटनी की थी, जिसमें वे भी शामिल थे। इसलिए उन्होंने फूड बिजनेस करने की ठानी। अजरीन ने बताया कि मेरी ड्रेस से आकर्षित होकर इस स्टॉल पर बड़ी तादाद में लोग आने लगे। खाना भी ग्राहकों को पसंत आता हैं। खाना बनाने में अजरीन की बीवी लातून नोराल्यानी उनकी मदद करती हैं। उनका मानना है कि चुनौतियों को गले लगाओ और कभी हार मत मानो। मुझे लग रहा है जैसे अभी भी हवाई यात्रा कर रहा हूं। अजरीन कहते हैं कि मेरा स्टॉल महामारी से प्रभवित लोगों को प्रेरणा देता हैं।

कैप्टन की यूनिफॉर्म में खाना सर्व करने से मिली शोहरत कोरोना महामारी का मानव जीवन पर गहरा असर पड़ा हैं। कोरोना के कारण बहुत से लोगों की नौकरी छूट गई तो कईयों ने अपनों को खोया। कोरोना का असर टूरिज्म इंडस्ट्री में काम करने वाले लोगों पर भी हुआ। इसके चलते आज कई लोग बेरोजगार

Related Articles