News Narmadanchal

बीपी को कंट्रोल रखने के लिए नहाते वक्त पानी का इस तरह करें यूज

बीपी को ऐसे करें कंट्रोल (फाइल फोटो)बीपी को ऐसे करें कंट्रोल (फाइल फोटो)

आजकल ज्यादातर लोग बीपी के चलते काफी परेशान रहते हैं। जिससे बचने के लिए लोग न जाने कितने जतन करते हैं। लेकिन फिर भी उन्हें कोई खास आराम नहीं मिलता है। आपको जानकर शायद हैरानी होगी कि आप हफ्ते में 3-4 बार गुनगुने पानी से नहाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। जी हां, हाल ही में हुई एक रिसर्च से पता लगा है कि हॉट बाथ बीपी को कंट्रोल करने में काफी मदद करते हैं।

दिल की कोशिकाएं मजबूत होती हैं और बीपी भी कंट्रोल में आता है

रिसर्चर्स के अनुसार गुनगुने पानी से नहाने से बॉडी में वैसोडिलेशन की प्रकिया को बढ़ावा मिलता है। जिससे रक्त धमनियां खुलती हैं और खून के बहाव के वक्त दिल पर ज्यादा दवाब भी नहीं पड़ता है। जिससे आपका बीपी कंट्रोल में रहता है। स्टडी में गुनगुने पानी से नहाना, दिल के लिए एक्सरसाइज के बराबर ही फायदेमंद बताया है। इसके साथ ही रिसर्चर्स ने बताया कि हॉट बाथ के समय दिल150 बीट प्रति मिनट की दर से धड़कने लगता है। जिससे दिल की कोशिकाएं मजबूत होती हैं और बीपी भी कंट्रोल में आता है।

Also Read: प्रेग्नेंसी के दौरान मिलने वाले ये संकेत होते हैं मां और बच्चे के लिए खतरनाक

28 प्रतिशत हार्ट अटैक का खतरा घट जाता है

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस रिसर्च में शामिल हुए लोगों को 16 मिनट के लिए गुनगुने पानी के संपर्क में रखा गया। इसके बाद उनके वजन, रक्तचाप और ग्लाइकेटेड हिमोग्लोबीन का समय समय पर टेस्ट किया गया। इस दौरान हफ्ते में 4 से ज्यादा बार हॉट बाथ लेने वाले लोगों के डायस्टॉलिक बीपी में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली। आपको बता दें कि हॉट बाथ लेने से 28 प्रतिशत हार्ट अटैक का खतरा घट जाता है। स्ट्रोक से मौत की आशंका में 26% तक की कमी आती है।

बीपी की समस्या से बचने के लिए लोग न जाने कितने जतन करते हैं। लेकिन फिर भी उन्हें कोई खास आराम नहीं मिलता है। आपको जानकर शायद हैरानी होगी कि आप हफ्ते में 3-4 बार गुनगुने पानी से नहाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। जी हां, हाल ही में हुई एक रिसर्च से पता लगा है कि हॉट बाथ बीपी को कंट्रोल करने में काफी मदद करते हैं।

Related Articles