News Narmadanchal
भाई दूजः इस मुहूर्त पर बहनें अपने भाईयों को लगाये टीका

भाई दूजः इस मुहूर्त पर बहनें अपने भाईयों को लगाये टीका

कोलकाता डेस्कः आज देश भर में भाई दूज का त्योहार मनाया जा रहा है। भाई दूज का त्योहार हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के द्वितिया तिथि पर मनाया जाता है। बहनें अपने भाईयों के लंबी उम्र के लिये इस दिन उपवास करके भगवान से प्रार्थना करती है।

भाई दूज तिलक शुभ मुहूर्त-भाई दूज का टीका शुभ मुहूर्त दिन 12:56 से 03:06 तक है।

भाई दूज की पूजन विधि- भाई दूज के दिन सुबह सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करें और तैयार हो जाएं। इसके बाद भाई-बहन दोनों मिलकर यमराज, यम के दूतों और चित्रगुप्त की पूजा करें। फिर सभी को अर्घ्य दें। इसके बाद अपने भाई को बहन चावल और घी का टीका लगायें।

फिर भाई की हथेली पर पान, सुपारी, सिंदूर, और सूखा नारियल रखें। इसके बाद भाई का मुंह मीठा करें और बहन अपने भाई की लंबी उम्र के लिए प्रार्थना करें। आखिर में भाई अपनी बहन को आशीर्वाद दें और उपहार दें।

भाई दूज कथा– पौराणिक मान्यता है कि भगवान सूर्य नारायण की पत्नी का नाम छाया था। उनकी कोख से यमराज तथा यमुना का जन्म हुआ था। यमुना यमराज से बड़ा स्नेह करती थी। वह उससे बराबर निवेदन करती कि इष्ट मित्रों सहित उसके घर आकर भोजन करो। अपने कार्य में व्यस्त यमराज बात को टालता रहा।

कार्तिक शुक्ला का दिन आया। यमुना ने उस दिन फिर यमराज को भोजन के लिए निमंत्रण देकर, उसे अपने घर आने के लिए वचनबद्ध कर लिया। यमराज ने सोचा कि मैं तो प्राणों को हरने वाला हूं। मुझे कोई भी अपने घर नहीं बुलाना चाहता।

बहन जिस सद्भावना से मुझे बुला रही है, उसका पालन करना मेरा धर्म है। बहन के घर आते समय यमराज ने नरक निवास करने वाले जीवों को मुक्त कर दिया। यमराज को अपने घर आया देखकर यमुना की खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

उसने स्नान कर पूजन करके व्यंजन परोसकर भोजन कराया। यमुना द्वारा किए गए आतिथ्य से यमराज ने प्रसन्न होकर बहन को वर मांगने का आदेश दिया। यमुना ने कहा कि भद्र! आप प्रति वर्ष इसी दिन मेरे घर आया करो। मेरी तरह जो बहन इस दिन अपने भाई को आदर सत्कार करके टीका करें, उसे तुम्हारा भय न रहे।

यमराज ने तथास्तु कहकर यमुना को अमूल्य वस्त्राभूषण देकर यमलोक की राह की। इसी दिन से पर्व की परम्परा बनी। ऐसी मान्यता है कि जो आतिथ्य स्वीकार करते हैं, उन्हें यम का भय नहीं रहता। इसीलिए भैयादूज को यमराज तथा यमुना का पूजन किया जाता है।

The post भाई दूजः इस मुहूर्त पर बहनें अपने भाईयों को लगाये टीका appeared first on Kolkata24x7-Latest Hindi News, Bengali News, Bangla Newspaper, Hindi Breaking News, Kolkata Hindi News, Kolkata News Online.

कोलकाता डेस्कः आज देश भर में भाई दूज का त्योहार मनाया जा रहा है। भाई दूज का त्योहार हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के द्वितिया तिथि पर मनाया जाता है। बहनें अपने भाईयों के लंबी उम्र के लिये इस दिन उपवास करके भगवान से प्रार्थना करती है। भाई दूज तिलक शुभ मुहूर्त-भाई दूज
The post भाई दूजः इस मुहूर्त पर बहनें अपने भाईयों को लगाये टीका appeared first on Kolkata24x7-Latest Hindi News, Bengali News, Bangla Newspaper, Hindi Breaking News, Kolkata Hindi News, Kolkata News Online.

Related Articles