News Narmadanchal
भारत ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का किया सफल परीक्षण, जानें खासियत

भारत ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का किया सफल परीक्षण, जानें खासियत

सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल, फ़ोटो फ़ाइल

भारत ने आज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। इस सुपरसोनिक क्रूज मीडियम रेंज मिसाइल ब्रह्मोस को भारत और रूस ने मिलकर विकसित किया है। इस सुपरसोनिक मिसाइल को सुबह 10:27 बजे आईटीआर के लॉन्च कॉम्पलेक्स-3 से दागा गया।

सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की खासियत

* मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अग्नि के सिद्धांत पर काम करने वाली और 450 किमी की रेंज वाली इस मिसाइल में 200 किलोमीटर तक के पारंपरिक वारहेड ले जाने की क्षमता है।

* यह 9 मीटर लंबी और 670 मिमी व्यास वाली मिसाइल का वजन करीब 3 टन है।

* यह मिसाइल एक जहाज से दागे जाने पर ध्वनि की रफ्तार से 14 किमी की ऊंचाई तक जा सकती है। यह एक ठोस प्रणोदक द्वारा चार्ज की जाती है।

* यह मिसाइल 20 किमी की दूरी पर अपना रास्ता बदल सकती है।

बता दें कि भारत की ब्रह्मपुत्र और रूस की मोस्कवा नदी के नाम पर मिसाइल का नाम ब्रह्मोस रखा गया है।

यह कंपनी भारत के डीआरडीओ और रूस के एनपीओ मशीनोस्त्रोयेनिया का साझा उद्यम है। मिसाइल के पहले विस्तारित संस्करण का सफल परक्षीण 11 मार्च साल 2017 को किया गया था। तब इसकी मारक क्षमता 450 किमी थी। 30 सितंबर साल 2019 को चांदीपुर स्थित आईटीआर से कम दूरी की मारक क्षमता वाली ब्रह्मोस मिसाइल के जमीनी संस्करण का सफल परीक्षण किया गया था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अग्नि के सिद्धांत पर काम करने वाली और 450 किमी की रेंज वाली इस मिसाइल में 200 किलोमीटर तक के पारंपरिक वारहेड ले जाने की क्षमता है।

Related Articles