News Narmadanchal

भारत में 26/11 जैसे हमले को अंजाम नहीं दिया जा सकता, पाकिस्तान आज है एफएटीएफ के रडार पर: राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह, फ़ोटो फ़ाइल

राजनाथ सिंह, फ़ोटो फ़ाइल

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज हिन्दुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट 2020 में कहा कि भारत के खिलाफ पाकिस्‍तान के आतंकवाद के मॉडल को ध्‍वस्‍त किया जा रहा है। इसलिए बौखलाया हुआ पाकिस्‍तान बार-बार बॉर्डर पर सीजफायर का उल्‍लंघन कर रहा है। पड़ोसी देश पाकिस्‍तान दुनिया की नजर में आतंकवाद की नर्सरी के रूप में उजागर हो चुका है। राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि वैश्विक मंचों पर पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा आतंकवाद के खिलाफ बनाई गई राय का असर है कि पाकिस्‍तान एफएटीएफ के रडार पर है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 26/11 हमले की बरसी पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि हम विश्‍वास दिलाते हैं कि भारत ने अपनी आतंरिक और बाहरी सुरक्षा को इतना मजबूत कर लिया है कि अब एक और 26/11 जैसे हमले को अंजाम नहीं दिया जा सकता है। अभी हाल ही में 4 आतंकवादियों को वैसे ही हमले के लिए भेजा गया था। लेकिन हमारी सेना ने उन आतंकियों को मारकर पाकिस्‍तान की नापाक साजिश को नाकाम कर दिया।

भारत नई नीति व प्रक्रिया से कर रहा आतंकवाद का मुकाबला

वहीं पीएम मोदी आज 26/11 हमले की बरसी पर कहा कि भारत 26 नवंबर के मुंबई आतंकवादी हमले के जख्म को कभी नहीं भूल सकता है। उन्होंने कहा कि भारत एक नई नीति और एक नई प्रक्रिया के साथ आतंकवाद से मुकाबला कर रहा है। मोदी ने पीठासीन अधिकारियों के 80वें अखिल भारतीय सम्मेलन ये बात कही है। इस दौरान पीएम मोदी ने यह भी कहा कि आज की तारीख (26 नवंबर) देश में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले से जुड़ी है। साल 2008 में 26 नवंबर को पाकिस्तान से भेजे गए आतंकवादियों ने मुंबई के ताज होटल में किया था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 26/11 हमले की बरसी पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि हम विश्‍वास दिलाते हैं कि भारत ने अपनी आतंरिक और बाहरी सुरक्षा को इतना मजबूत कर लिया है कि अब एक और 26/11 जैसे हमले को अंजाम नहीं दिया जा सकता है।

Related Articles