News Narmadanchal

मंत्री के ‘वादे’ पर हड़ताल टूटी, आज से काम पर लौटेंगे

रायपुर. नियमितीकरण की मांग के लिए पिछले नौ दिनों से हड़ताल पर बैठे संविदा स्वास्थ्य कर्मी आज से काम पर लौटेंगे। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से मिले आश्वासन के बाद उन्होंने हड़ताल स्थगित करने का फैसला लिया है। हड़ताल के दौरान कर्मचारी संगठन के पदाधिकारियों को बर्खास्त करने और एफआईआर की जो कार्रवाई की गई है, उसे वापस लिया जाएगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत कार्यरत प्रदेश के करीबन 13 हजार संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने नियमित किए जाने की मांग को लेकर हड़ताल कर दी थी। उनके काम बंद करने की वजह से प्रदेश में कोरोना की जांच प्रभावित हो रही थी।

कर्मचारी अपने जिला मुख्यालय में प्रदर्शन भी कर रहे थे। कोरोनाकाल में किए गए इस विरोध प्रदर्शन की वजह से सरकार भी सख्ती के मूड में आ गई थी, संगठन के अध्यक्ष समेत 20 लोगों को बर्खास्त कर दिया था। इसके साथ ही कई जिलों में हड़तालियों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी। जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को इस बात के भी निर्देश दे दिया गया था कि इस तरह के रिक्त पदों पर भर्ती की जाए, जिसके बाद आवेदन मंगाने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई थी। संविदा कर्मचारियों को हड़ताल के बजाय चर्चा करने की पेशकश भी रखी गई थी। इस आधार पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के निवास पर उनकी चर्चा हुई और कर्मचारियों को नियमित करने के आश्वासन के बाद संघ ने काम पर वापस लौटने का फैसला लिया।

कईयों ने दिया था समर्थन

संविदा कर्मचारियों की मांग पूरी करने के लिए अनेक विधायकों ने उन्हें समर्थन दिया था। इसके साथ अखिल भारतीय एनएचएम कर्मचारी संघ द्वारा भी हड़तालियों का मांग पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा गया था। आंदोलनरत कर्मचारी इस बात पर अड़े हुए थे कि जब तक उन्हें ठोस आश्वासन नहीं मिलेगा, वे काम पर नहीं लौटेंगे।

ज्वाइनिंग के निर्देश

बैठक के बाद सभी कलेक्टर और सीएमएचओ को निर्देश दिया गया है कि हड़ताल से वापस लौटने वाले कर्मचारियों को ज्वाइनिंग दिलाई जाए। कर्मचारियों का कहना है कि वे सोमवार से अपनी ज्वाइनिंग देंगे।

आपात स्थिति पर निर्णय

स्वास्थ्य मंत्री के साथ हुई बैठक में मिले आश्वासन तथा कोरोना की आपात स्थिति को देखते हुए कर्मचारी अपना हड़ताल वापस ले रहे हैं। सोमवार को सभी जिला मुख्यालयों में कर्मचारी काम पर वापस लौट जाएंगे।

– हेमंत कुमार सिन्हा प्रांताध्यक्ष, संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ, छग

लौटने हुए राजी

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ चर्चा हुई, जिसमें उनके राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी भी शामिल हुए। उनकी मांग पर शीघ्र कार्यवाही की जाएगी। कर्मचारियों को आपात स्थिति में काम पर वापस लौटने कहा गया था।

– टीएस सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री

नियमितीकरण की मांग के लिए पिछले नौ दिनों से हड़ताल पर बैठे संविदा स्वास्थ्य कर्मी आज से काम पर लौटेंगे। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से मिले आश्वासन के बाद उन्होंने हड़ताल स्थगित करने का फैसला लिया है। हड़ताल के दौरान कर्मचारी संगठन के पदाधिकारियों को बर्खास्त करने और एफआईआर की जो कार्रवाई की गई है, उसे वापस लिया जाएगा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत कार्यरत प्रदेश के करीबन 13 हजार संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने नियमित किए जाने की मांग को लेकर हड़ताल कर दी थी। उनके काम बंद करने की वजह से प्रदेश में कोरोना की जांच प्रभावित हो रही थी।

Related Articles