News Narmadanchal
रायगढ़ में किन्नर समुदाय ने उठाया स्वच्छता का बीड़ा, डोर टू डोर कचरा संग्रहण और मास्क का दिया संदेश

रायगढ़ में किन्नर समुदाय ने उठाया स्वच्छता का बीड़ा, डोर टू डोर कचरा संग्रहण और मास्क का दिया संदेश

रायगढ़। छतीसगढ़ राज्य का पहला नगर निगम रायगढ़ बन गया है, जिसने किन्नर समुदाय को अधिकृत रूप से स्वच्छता कमांडो नाम से स्वच्छता सफाई, शहर विकास एवं वैश्विक महामारी कोरोना हेतु शासन के दिशा निर्देशों का पालन करने जनजागृति के लिये नियुक्त किया है।

ज्ञात हो कि जिला कलेक्टर भीम सिंह के मार्गदर्शन में महापौर जानकी काट्जू एवम निगम आयुक्त आशुतोष पांडेय द्वारा स्वच्छता एवम शहर विकास हेतु विशेष पहल अंतर्गत रायगढ़ के किन्नर समुदाय को जनजागरूकता हेतु नगर निगम में स्वच्छता कमांडो नाम देकर शामिल करते हुए सराहनीय प्रयास किया गया साथ ही वार्ड क्रमांक 4 में विशेष अभियान को भव्यता के साथ शुभारंभ किया।

जैसा कि शहर विकास एवम आगामी जनवरी माह में स्वच्छता सर्वेक्षण होना है उसके लिये नगर निगम की पूरी टीम स्वच्छता और सफाई के लिये अलग अलग क्षेत्रो में विभिन्न प्रकार से जनजागरूकता लाने हेतु प्रयासरत है जिसमे सर्वप्रथम महासफाई अभियान जिसे पूरे 48 वार्डो में विधायक प्रकाश नायक,कलेक्टर भीम सिंह, महापौर जानकी काट्जू,सभापति जयंत ठेठवार, निगम आयुक्त आशुतोष पांडेय,एम आई सी सदस्य, पार्षदगण एवम प्रबुद्ध जनों के सहयोग से चलाया गया जो सफल भी हुआ। लोगों में जन जागृति तो आई है यह देखने को भी मिलता है, वही वाल पेंटिंग, कलाकृति, थीम सांग, रिक्शादीदी एवम रिक्शा की बढ़ोतरी, सफाई गैंग आदि से भी लगातार स्वच्छता हेतु कार्य किया जा रहा है।

उसी तारतम्य में पूरे भारत वर्ष में छतीसगढ़ राज्य का पहला नगर निगम जिसने तृतीय लिंग किन्नर समुदाय को आत्म निर्भर बनाने तथा उनके जीविकोपार्जन में सहयोग की दृष्टि से उन्हें स्वच्छता कमांडो कहते हुए शहर के वार्ड में स्वच्छ्ता संदेश एवम वैश्विक महामारी कोरोना के प्रति सतर्क एवम जागरूक करने मास्क, दो गज दूरी, हाथ की सफाई साबुन या सेनेटाइजर से करने प्रेरित करते नजर आ रहे है।

महापौर जानकी काट्जू ने बताया कि कल कलेक्टर सर और कमिश्नर सर ने कलेक्ट्रेट में बैठक रखे थे और हमें जन जागरूकता के साथ कचरा निपटान के लिए बताया गया।स्वच्छता और सफाई को ध्यान में रखकर मैंने मेयर होने के नाते आज अपने वार्ड क्रमांक 4 से किन्नर समुदाय को स्वच्छता कमांडो के रूप में रखते हुए सफाई हेतु आगाज की हूं । और इन लोगों को मैं कोशिश करूंगी कि इन लोगों का जो जीविका है अच्छा चले और हम लोग सपोर्ट करें जन जागरूक के लिए हो चाहे कचरा का निपटान के लिए हो चाहे कोरोना वायरस के बचाव के लिये जो मास्क लगाने के लिए हो,इन सभी ने मुझे सपोर्ट किया इसके लिए बहुत धन्यवाद देना चाहती हू और इनका सपोर्ट करने के लिए मैं तैयार हूं अभी अभियान के तहत हम लोग घर घर जाकर हर महिला या पुरुष जो मिल रहे हैं या दुकान यह सब में गीला कचरा सूखा कचरा अलग अलग करने के लिए इनको समझाइश दी जा रही है मोहल्ले वासी को मास्क के लिए भी कह रहे हैं क्योंकि जो कोविड-19 समस्या है आए दिन बढ़ता ही जा रहा है इसके लिए जनजागृति जरूरी है और हम लोग करेंगे तभी जनता जागरूक होगी किन्नर समूह को मैं प्लेसमेंट या और कोई माध्यम से जोड़ना चाहती हूं ताकि इन लोगों का जो अलग से काम करने इन लोगों का है ना हो उसके लिए मैं कोशिश कर रही हूं कि इनको काम मिल जाए एक तरफ से और इन लोगों का जीविका अच्छे से चले और मैं कोशिश कर रही हूं कि इन लोगों को जो हीन भाव से देखते हैं यह ना हो यह भी एक इंसान हैं और यह लोग भी सब कुछ कर सकते हैं एक अंतिम छोर तक जाकर यह लोग जन जागरूक कर रहे हैं और हर समस्या के समाधान के लिए लिए खुद जागरूक है।

छत्तीसगढ़ राज्य का पहला नगर निगम जहां किन्नर समुदाय बना स्वच्छता कमांडो, महापौर एवम आयुक्त के पहल से किन्नर जुड़ेंगी समाज के मुख्यधारा में। पढ़िए पूरी खबर-

Related Articles