News Narmadanchal
रिसर्च : पालतू कुत्ते को घूमाने वालों को सामान्य लोगों की अपेक्षा कोरोना का खतरा 78 प्रतिशत ज्यादा

रिसर्च : पालतू कुत्ते को घूमाने वालों को सामान्य लोगों की अपेक्षा कोरोना का खतरा 78 प्रतिशत ज्यादा

वैसे ही दुनिया कोरोनावायरस परेशान है। ऐसे में हाल में ही हुए एक अध्ययन के अनुसार कुत्ते पालने से कोरोनावायरस संक्रमण का भय और बढ जाने की जानकारी सामने आई है।

स्पेनिक संशोधनकर्ताओ के अनुसार कुत्ता पालने वाले लोगों के अंदर कोरोना का भय 78% बढ़ जाता है। संशोधनकर्ताओ का मानना है कि कुत्ते अनेक स्थानों पर गंदी जगहों को स्पर्श कर के पहले से ही अपना शरीर में कई प्रकार के वायरस लेकर चलते रहते हैं। ऐसे में उनके वायरस से मालिक को भी संक्रमण लग सकता है।

वायरस के कारण जानवरों को तो बीमारी नहीं लगती लेकिन उनके संपर्क में रहने वाले अन्य लोगों को बीमारी लग सकती है। संशोधको का कहना है कि कुत्ते पालने वाले मालिकों को इन दिनों सावधानी रखनी चाहिए। उन्हें जानवरो से भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना चाहिए कुत्तों से भी थोड़ी दूरी बनाए रखना के लिए हितावह होगा। विशेष रूप से पालतू कुत्तों को घर के बाहर घूमाने ले जाने वाले व्यक्तियों को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत रहती है।

अब इस शोध में किस हद तक सच्चाई है, यह तो संशोधन कर्ता ही जानेंं। लेकिन इतना अवश्य कहा जा सकता है कि लोगों को खुद भी और अपने पालतू पशुओं को भी घर के बाहर ले जाते वक्त ध्यान रखना चाहिये। वायरस का कोई भी कैरियर जो संक्रमण फैला सके उसके प्रति सतर्कता ही इलाज है।

वैसे ही दुनिया कोरोनावायरस परेशान है। ऐसे में हाल में ही हुए एक अध्ययन के अनुसार कुत्ते पालने से कोरोनावायरस संक्रमण का भय और बढ जाने की जानकारी सामने आई है। स्पेनिक संशोधनकर्ताओ के अनुसार कुत्ता पालने वाले लोगों के अंदर कोरोना का भय 78% बढ़ जाता है। संशोधनकर्ताओ का मानना है कि कुत्ते अनेक

Related Articles