News Narmadanchal

लॉकडाउन से व्यापारियों को 70 हजार करोड़ का फटका, त्योहारी सीजन में उबरने की उम्मीद

रायपुर. कोरोना के कहर के कारण छह माह में तीन माह तक हुए लॉकडाउन के कारण प्रदेश के व्यापारियों को करीब 70 हजार करोड़ का फटका लगा है। प्रदेश में रोज करीब हजार करोड़ का कारोबार हर सेक्टर का मिलाकर होता है। लॉकडाउन में आवश्यक सेवाओं वाले कारोबार के जारी रहने के कारण 70 फीसदी व्यापार प्रभावित हुआ। इससे हर सेक्टर की कमर टूट गई है। अब इस माह नवरात्रि से प्रारंभ होने त्योहारी सीजन को लेकर व्यापारियों को उम्मीद है कि हर सेक्टर के बाजार में रौनक आएगी और कारोबार को उबरने का मौका मिलेगा।

कोरोना के कहर के कारण प्रदेश में सबसे पहले प्रदेश सरकार ने मार्च में लॉकडउन का ऐलान किया। इसके कुछ दिनों बाद केंद्र सरकार ने भी लॉकडाउन कर दिया। यह लॉकडाउन बहुत लंबा चला। 21 मार्च से प्रारंभ हुआ लॉकडाउन 31 मई तक चला। यही करीब सवा दो माह का लॉकडाउन रहा। इसके बाद प्रदेश सरकार ने जुलाई और अगस्त में दो सप्ताह का और सितंबर में एक सप्ताह का लॉकडाउन लगाया। कुल मिलाकर प्रदेश में कारोबार तीन माह तक प्रभावित रहा है।

हर सेक्टर में करोड़ों का व्यापार

ऐसा कोई सेक्टर नहीं है, जहां पर रोज करोड़ों का कारोबार नहीं होता। आटोमोबाइल सेक्टर में भी रोज कम से कम दस करोड़ का कारोबार हो जाता है। इसी तरह से सराफा में भी रोज तीन से पांच करोड़ का कारोबार होता है। मोबाइल में एसेसरीज और रिपेयरिंग को मिलाकर रोज का करीब पांच करोड़ का कारोबार है। इसके अलावा इलेक्ट्राॅनिक, इलेक्ट्रिक, कपड़ा, जूते-चप्पल, रेडिमेड, होजियरी, हार्डवेयर, प्लाईवुड, टाइल्स, स्टेशनरी, होटल, रेस्टोरेंट, ढाबे से लेकर रीयल एस्टेट सहित हर सेक्टर को मिलाकर रोज का कारोबार करीब हजार करोड़ का होता है।

लौटेगी रौनक : हर सेक्टर के कारोबारियों को अब इस माह प्रारंभ हो रही नवरात्रि से बहुत उम्मीद है। नवरात्रि के बाद पुष्य नक्षत्र, धनतेरस और दीपावली है। इसके बाद शादियों का सीजन भी प्रारंभ हो जाएगा। ऐसे में कारोबारियों का मानना है, हर सेक्टर को कोरोना से चौपट हुए कारोबार को उबरने का मौका मिलेगा। सराफा से लेकर आटोमोबाइल्स, इलेक्ट्राॅनिक, रीयल एस्टेट, कपड़ा बाजार, स्टील, सीमेंट उद्योग के साथ लघु और मध्यम उद्योगाें सहित हर सेक्टर में अच्छी खरीदारी की उम्मीद की जा रही है।

भरपाई हो सकेगी

कोरोनाकाल में हुए लॉकडाउन ने हर सेक्टर की कमर तोड़ी है। करीब 70 हजार करोड़ का प्रदेश में कारोबार प्रभावित हुआ है। अब त्योहारी सीजन में बाजार गुलजार हाेंगे तो उससे कुछ भरपाई हो सकेगी।

– अमर पारवानी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, कैट 

कोरोना के कहर के कारण छह माह में तीन माह तक हुए लॉकडाउन के कारण प्रदेश के व्यापारियों को करीब 70 हजार करोड़ का फटका लगा है। प्रदेश में रोज करीब हजार करोड़ का कारोबार हर सेक्टर का मिलाकर होता है। लॉकडाउन में आवश्यक सेवाओं वाले कारोबार के जारी रहने के कारण 70 फीसदी व्यापार प्रभावित हुआ। इससे हर सेक्टर की कमर टूट गई है। अब इस माह नवरात्रि से प्रारंभ होने त्योहारी सीजन को लेकर व्यापारियों को उम्मीद है कि हर सेक्टर के बाजार में रौनक आएगी और कारोबार को उबरने का मौका मिलेगा।

Related Articles