News Narmadanchal

विश्व बाल दिवस (World Children’s Day) पर ब्लू लाइट से सजा भोपाल स्टेशनविश्व बाल दिवस (World Children’s Day) पर ब्लू लाइट से सजा भोपाल स्टेशन

इटारसी। बच्चों के अधिकारों के समर्थन में प्रति वर्ष 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस (World Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है, जिससे कि दुनिया भर में बच्चों के कल्याण में सुधार हेतु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एकजुटता और बच्चों में जागरूकता उत्पन्न हो सके।
मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर (Divisional Railway Manager Uday Borwankar) की पहल पर विश्व बाल दिवस पर बच्चों के अधिकारों एवं उनके कल्याण में सुधार के समर्थन में भोपाल रेलवे स्टेशन को ब्लू लाइट थीम (Blue light theme) पर सजाया गया, ताकि यात्रियों, रेल कर्मियों में बच्चों के कल्याण के प्रति जागरूकता लाई जा सके। विश्व बाल दिवस के अवसर पर आज रेल प्रशासन द्वारा भोपाल स्टेशन पर तथा शताब्दी एक्सप्रेस स्पेशल (Shatabdi Express Special) एवं लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल गाड़ी (Lokmanya Tilak Terminus-Gorakhpur Express Special Train) में बच्चों को मास्क, बिस्कुट्स एवं टॉफी वितरित कर उनका मनोबल बढ़ाया गया। इस अवसर पर रेलवे चाइल्डलाइन के सदस्य भी मौजूद थे।

मंडल रेल प्रबंधक ने कहा कि विश्व बाल दिवस हम सभी को बच्चों के लिए एक बेहतर दुनिया का निर्माण करने के लिये उनके अधिकारों की वकालत करने, उसे बढ़ावा देने, संवाद करने तथा उन्हें अच्छे नागरिक बनाने की प्रेरणा देता है। भोपाल रेल मंडल बच्चों की शिक्षा और चहुमुखी विकास पर विशेष ध्यान दे रहा है। इटारसी के रेलवे स्कूल तथा रेलवे समाज कल्याण केंद्र, भोपाल में इस वर्ष अभूतपूर्व सुधार एवं विकास कार्य किए गये हैं। रेल कर्मचारियों के बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएँ आयोजित की गयी हैं। मंडल पर विभिन्न रेल कालोनियों में बाल उद्यान बनवाये गये, जिससे बच्चे खेल कूद में रुचि लें। उल्लेखनीय है कि विश्व बाल दिवस को पहली बार वर्ष 1954 में यूनिवर्सल चिल्ड्रन डे (Universal children’s day) के रूप में घोषित किया गया था। तब से प्रत्येक वर्ष 20 नवम्बर को मनाया जाता है।

इटारसी। बच्चों के अधिकारों के समर्थन में प्रति वर्ष 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस (World Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है, जिससे कि दुनिया भर में बच्चों के कल्याण में सुधार हेतु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एकजुटता और बच्चों में जागरूकता उत्पन्न हो सके।
मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर (Divisional Railway Manager Uday Borwankar) की पहल पर विश्व बाल दिवस पर बच्चों के अधिकारों एवं उनके कल्याण में सुधार के समर्थन में भोपाल रेलवे स्टेशन को ब्लू लाइट थीम (Blue light theme) पर सजाया गया, ताकि यात्रियों, रेल कर्मियों में बच्चों के कल्याण के प्रति जागरूकता लाई जा सके। विश्व बाल दिवस के अवसर पर आज रेल प्रशासन द्वारा भोपाल स्टेशन पर तथा शताब्दी एक्सप्रेस स्पेशल (Shatabdi Express Special) एवं लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल गाड़ी (Lokmanya Tilak Terminus-Gorakhpur Express Special Train) में बच्चों को मास्क, बिस्कुट्स एवं टॉफी वितरित कर उनका मनोबल बढ़ाया गया। इस अवसर पर रेलवे चाइल्डलाइन के सदस्य भी मौजूद थे।

मंडल रेल प्रबंधक ने कहा कि विश्व बाल दिवस हम सभी को बच्चों के लिए एक बेहतर दुनिया का निर्माण करने के लिये उनके अधिकारों की वकालत करने, उसे बढ़ावा देने, संवाद करने तथा उन्हें अच्छे नागरिक बनाने की प्रेरणा देता है। भोपाल रेल मंडल बच्चों की शिक्षा और चहुमुखी विकास पर विशेष ध्यान दे रहा है। इटारसी के रेलवे स्कूल तथा रेलवे समाज कल्याण केंद्र, भोपाल में इस वर्ष अभूतपूर्व सुधार एवं विकास कार्य किए गये हैं। रेल कर्मचारियों के बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएँ आयोजित की गयी हैं। मंडल पर विभिन्न रेल कालोनियों में बाल उद्यान बनवाये गये, जिससे बच्चे खेल कूद में रुचि लें। उल्लेखनीय है कि विश्व बाल दिवस को पहली बार वर्ष 1954 में यूनिवर्सल चिल्ड्रन डे (Universal children’s day) के रूप में घोषित किया गया था। तब से प्रत्येक वर्ष 20 नवम्बर को मनाया जाता है।

इटारसी। बच्चों के अधिकारों के समर्थन में प्रति वर्ष 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस (World Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है, जिससे कि दुनिया भर में बच्चों के कल्याण में सुधार हेतु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एकजुटता और बच्चों में जागरूकता उत्पन्न हो सके। मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर (Divisional Railway Manager Uday

Related Articles