News Narmadanchal

सफाई सिस्टम कचरा, 176 सफाईकर्मी ड्यूटी से गायब, ठेका रद्द करने की तैयारी

रायपुर. रायपुर शहर की सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। एक ही दिन में 21 वार्डों में 176 सफाई कर्मचारी काम पर अनुपस्थित मिले। नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी ने निगम आयुक्त सौरभ कुमार के निर्देश पर शहर में सफाई व्यवस्था का आकस्मिक निरीक्षण किया, इस दौरान जोन 6 के 7 वार्डों में 83 सफाई कर्मचारी नदारद मिले। जोन 7 के वार्ड में 42 सफाई कर्मचारी और जोन 8 के 7 वार्डों में 51 सफाई कर्मचारियों की अनुपस्थिति ने अधिकारी को चौंका दिया। इसके लिए संबंधित जोन के स्वास्थ्य अधिकारी, वार्ड के सफाई सुपरवाइजरों को शोकाॅज नोटिस जारी किया गया है।

दरअसल शहर की सफाई व्यवस्था में 900 अतिरिक्त प्लेसमेंट के ठेका कर्मचारी बढ़ाने के बावजूद वार्डों की सफाई व्यवस्था लचर देखकर महापौर एजाज ढेबर ने एक दिन पहले जोन 3 कमिश्नरी के गुरु गोविंद सिंह वार्ड और जोन 4 के पं. रविशंकर शुक्ल वार्ड का औचक निरीक्षण किया। जिसमें दोनों वार्ड के हाजिरी रजिस्टर की जांच में पूरे सफाई कर्मचारी मिले, पर फील्ड में गिनती करने पर संख्या कम मिली। इस पर श्री ढेबर ने मौके पर पर ही दोनों वार्ड का सफाई का ठेका निरस्त करने आदेश दिया। वहीं इन कर्मचारियों की माॅनिटरिंग में लगे नगर निगम के सफाई सुपरवाइजर को निलंबित करने का निर्देश जारी किया।

दूसरे दिन भी लापरवाही…

सफाई व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालने वाले नगर निगम के आला अफसर खुद फील्ड पर सफाई कर्मचारियों की उपस्थिति नहीं जांचते। जोन स्वास्थ्य अधिकारी और वार्ड के सफाई सुपरवाइजर की जानकारी में होने के बाद भी सैकड़ों सफाई कर्मचारी 21 वार्डों में गैरहाजिर मिले। निगम आयुक्त के निर्देश पर स्वास्थ्य अधिकारी विजय पांडे ने जब आकस्मिक जांच की तो पाया कि जोन 6 के 7 वार्डाें में 83 कर्मचारी, जोन 7 के 7 वार्डों में 42, जोन 8 के 7 वार्डों में 51 सफाई कर्मचारी डयूटी से नदारद मिले। श्री पांडेय ने इसके लिए संबंधित जेडएचओ, वार्ड सुपरवाइजरों पर नाराजगी जताई और स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से आयुक्त के आदेश पर शोकॉज नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है।

कोताही बर्दाश्त नहीं

शहर की सफाई व्यवस्था में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वार्डवार औचक निरीक्षण आगे भी जारी रहेगा। निर्धारित संख्या में सफाई कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं मिले तो ठेकेदार से लेकर संबंधित निगम अधिकारी से जवाब मांगा जाएगा।

– एजाज ढेबर, महापौर, रायपुर

सफाई कामगारों की उपस्थिति के आकस्मिक निरीक्षण में सामने आया मामला

Related Articles