News Narmadanchal
सितंबर में हार्ट अटैक से कर्नल रैंक के 6 अफसरों की मौत

सितंबर में हार्ट अटैक से कर्नल रैंक के 6 अफसरों की मौत

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम। सितंबर के महीने में हार्ट अटैक से लेफ्टिनेंट कर्नल और कर्नल रैंक के कम से कम 6 सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई। ये सभी अधिकारी 40-45 साल की उम्र के थे। इसी तरह पिछले कुछ सालों में देश के अलग-अलग हिस्सों से इस तरह की जो खबरें सामने आई हैं, उससे जाहिर है कि भारतीय सेना में जीवन की गुणवत्ता यानी ‘क्वालिटी ऑफ लाइफ बहुत अच्छी नहीं है। कभी-कभी तो यह क्वालिटी बेहद कम होती नजर आती है। जिसके चलते सेना तनाव और निगेटिविटी का शिकार हो रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत हर साल लगभग 1,600 जवानों को युद्ध में नहीं, बल्कि दूसरी वजहों से खो रहा है। सुरक्षाबलों के जीवन में तनाव हमेशा रहा है, लेकिन पहले यह इतना बड़ा मुद्दा कभी नहीं था। सेना पर तनाव का कोई निगेटिव असर नहीं पड़े, इसके लिए हमेशा से पर्याप्त सुरक्षा तंत्र मौजूद रहे हैं, लेकिन मौजूदा हालात में माहौल बदलता हुआ दिखाई दे रहा है।
टेक्नोलॉजी का असर
टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल के चलते फिजिकल और मेंटल दोनों ही लेवल पर निगेटिव इफेक्ट पड़ता है। यहां तक कि कॉनस्टेंट चेकर्स यानी जो रेगुलर इनका इस्तेमाल करते हैं उन पर तो इसका असर और भी ज्यादा होता है। करीब 40 फीसदी अफसरों ने माना कि वे कॉनस्टेंट चेकर्स हैं, और 60 फीसदी कहते हैं कि वे अपने फोन या टैबलेट से हर वक्त जुड़े रहते हैं।

The post सितंबर में हार्ट अटैक से कर्नल रैंक के 6 अफसरों की मौत appeared first on Bichhu.com.

नई दिल्ली, बिच्छू डॉट कॉम। सितंबर के महीने में हार्ट अटैक से लेफ्टिनेंट कर्नल और कर्नल रैंक के कम से कम 6 सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई। ये सभी अधिकारी 40-45 साल की उम्र के थे। इसी तरह पिछले कुछ सालों में देश के अलग-अलग हिस्सों से इस तरह की जो खबरें सामने आई
The post सितंबर में हार्ट अटैक से कर्नल रैंक के 6 अफसरों की मौत appeared first on Bichhu.com.

Related Articles