News Narmadanchal
सूरत : ऑनलाइन पटरी पर चढ़ने लगी कपड़ा बाजार की गाड़ी!

सूरत : ऑनलाइन पटरी पर चढ़ने लगी कपड़ा बाजार की गाड़ी!

परंपरागत कामकाज की जगह ऑनलाईन मिल रहे ऑर्डर और पेमेंट

आगामी दिनों में दिवाली होने के कारण बाजार में इन दिनों अच्छा माहौल है। अन्य राज्यों से बड़े पैमाने पर व्याप्त आर्डर मिल रहे हैं साथ ही पिछले दिनों का पेमेंट भी मिल रहा है। जिसके चलते कपड़ा व्यापारियों में उत्साह का माहौल है। साथ ही ऑनलाइन ऑर्डर बुक कराने लगे हैं। यातायात व्यवस्था सुचारू ढंग से अभी तक नहीं चालू हो पाई है साथ ही व्यापारी खुद भी आने से डरते हैं। इसलिए उन्होंने ऑनलाइन आर्डर देना ही चालू कर दिया है।

नोटबंदी के दौरान लोगों ने और ऑनलाइन की ओर प्रयास तो किया था, लेकिन इसका उपयोग नहीं कर रहे थे। लेकिन अब कोरोना में उनके पास कोई विकल्प नहीं बचा है। ऐसे में व्यापारियों ने भी व्हाट्सएप सहित अन्य टेक्नोलॉजी का उपयोग कर ऑनलाइन ऑर्डर देना शुरू कर दिया है। उनके पास कोई विकल्प नहीं है।

कारोबारियों ने बदली करवट, तकनिक का उपयोग करने लगे

समय के साथ सूरत के कपड़ा व्यापारियों ने भी करवट बदली है। वह भी अब नई नई टेक्नोलॉजी का उपयोग करके ऑनलाइन व्यापार आगे बढ़ा रहे हैं। व्यापारी व्हाट्सएप के माध्यम से डिजाइन भेज देते हैं और उसी के बाद आर्डर भी बुक करा देते हैं। इतना ही नहीं बल्कि पेमेंट की व्यवस्था भी बदली है। अब व्यापारिक चेक भेजने के बजाय डिजिटल पेमेंट कर देते हैं। ऐसा कह सकते हैं कि धीरे-धीरे सूरत कपड़ा व्यापारी अब 80% तक कारोबार डिजिटल करने लगे हैं। आगामी दिनों में परिस्थिति नहीं सुधरी तो सूरत का कपड़ा व्यापार पूर्ण रूप से भी डिजिटल हो सकता है।

सूरत के कपड़ा व्यापारियों का कहना है कि बीते दिनों नोटबंदी में लॉकडाउन के कारण व्यापार नहीं होने से पेमेंट नहीं मिल रहा था लेकिन अब पेमेंट भी समय पर आ रहा है। कपड़ा व्यापारी अरूण पाटोदिया ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि कपड़ा उद्योग में 80% व्यापार ऑनलाइन शुरू हो गया है। व्यापारियों को व्हाट्सएप पर ऑर्डर मिल जाता है। हालांकि कई लोगों से अभी भी 6 महीने तक का पेमेंट फंसा हुआ है फिलहाल व्यापारी उसकी वसूली में लगे हैं।

परंपरागत कामकाज की जगह ऑनलाईन मिल रहे ऑर्डर और पेमेंट आगामी दिनों में दिवाली होने के कारण बाजार में इन दिनों अच्छा माहौल है। अन्य राज्यों से बड़े पैमाने पर व्याप्त आर्डर मिल रहे हैं साथ ही पिछले दिनों का पेमेंट भी मिल रहा है। जिसके चलते कपड़ा व्यापारियों में उत्साह का माहौल है। साथ

Related Articles