News Narmadanchal
सेहत: चुस्ती-फुर्ती के नाम पर देह पर अत्याचार, नकल से नहीं अक्ल से लें काम

सेहत: चुस्ती-फुर्ती के नाम पर देह पर अत्याचार, नकल से नहीं अक्ल से लें काम

कुदरत ने हम सबको अलग बनाया है। लेकिन बाजार ने हम पर दबाव बनाया कि हम सब एक जैसे और एक खास उम्र के ही दिखें। लेकिन कोरोना के समय हमें यह अहसास फिर से हुआ कि हम अपनी मूल शारीरिक बनावट के साथ ज्यादा छेड़खानी न करें।कुदरत ने हम सबको अलग बनाया है। लेकिन बाजार ने हम पर दबाव बनाया कि हम सब एक जैसे और एक खास उम्र के ही दिखें। लेकिन कोरोना के समय हमें यह अहसास फिर से हुआ कि हम अपनी मूल शारीरिक बनावट के साथ ज्यादा छेड़खानी न करें।[#item_full_content]

Related Articles