News Narmadanchal

हाथरस की घटना को लेकर पूरे प्रदेश में धरना देगी कांग्रेस

रायपुर. हाथरस की घटना को लेकर कांग्रेस पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर उत्तरप्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग करेगी। प्रदेश में 5 अक्टूबर को ब्लाॅक स्तर, 6 अक्टूबर को जिला स्तरीय और 7 अक्टूबर को प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन होगा।

नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया और कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष धनेश पाटिला ने शनिवार को राजीव भवन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि हाथरस की घटना से पूरे देश में आक्रोश है। हर कोई मामले में आरोपियों की फांसी की मांग कर रहा है। उन्होंने कहा कि दलित समाज की बेटी स्व. मनीषा बाल्मीकि का 14 सितंबर को सामूहिक बलात्कार कर अपराधियों द्वारा उसकी जीभ काट दी गई। रीढ़ की हड्डी तोड़कर गर्दन मरोड़ कर जघन्य व क्रूरतम अपराध किया गया। परिजन के एफआईआर दर्ज कराने के बावजूद पुलिस प्रशासन और उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा कार्रवाई नहीं किया जाना कई संदेहों को जन्म देता है। एक अक्टूबर को राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा महासचिव प्रियंका वाड्रा गांधी, पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस गये, जहां रास्ते में ही पुलिस ने बलपूर्वक रोक दिया।

हाथरस की घटना बड़ी, बलरामपुर की छोटी

श्री डहरिया ने कहा कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह प्रदेश के बलरामपुर में हुई बलात्कार की घटना पर सवाल उठाते हैं, लेकिन हाथरस की बड़ी घटना को लेकर को लेकर उनका मुंह नहीं खुला। उन्होंने कहा कि केंद्र और उत्तरप्रदेश की सरकार अनुसूचित जाति वर्ग पर अत्याचार कर रही है।

ब्लॉक, जिला और प्रदेश स्तर पर प्रदर्शन

5 अक्टूबर को कांग्रेस ब्लॉक स्तर पर प्रदर्शन करेगी। ब्लॉक स्तर पर एसडीएम और तहसीलदार को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर दोषियों पर कार्रवाई की मांग करेगी। 6 अक्टूबर को 28 जिलों में प्रदर्शन कर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा। वहीं 7 अक्टूबर को राज्य स्तर पर प्रदर्शन करेगी। राजीव भवन से पदयात्रा कर राजभवन पहुंचकर राज्यपाल को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा।

सोमवार को जिलों में मौन सत्याग्रह

5 अक्टूबर को सुबह 11 बजे जिला मुख्यालयों में मौन-सत्याग्रह आंदोलन का आयोजन कर स्थानीय प्रदेश पदाधिकारियों, सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, जिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों, ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष, पदाधिकारियों, मोर्चा संगठन, प्रकोष्ठ, विभाग के जिला ब्लाक पदाधिकारियों, सोशल मीडिया के प्रशिक्षित सदस्यों नगरीय-निकाय, त्रिस्तरीय पंचायत के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों, वरिष्ठ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा आंदोलन किया जाएगा।

मंत्री बोले- छत्तीसगढ़ में रेप छोटी घटना

गैंगरेप की घटना को लेकर नगरीय प्रशासन मंत्री डा. शिव डहरिया ने बेतुका बयान दिया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में जो गैंगरेप की घटना हुई है, वह छोटी और हाथरस में जो घटना हुई है, वह बड़ी है। राजीव भवन में हाथरस की घटना को लेकर डा. डहरिया पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। इस दौरान उनसे सवाल किया गया कि छत्तीसगढ़ के बलरामपुर एक युवती से नशीला पदार्थ खिलाकर में गैंगरेप की घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ट्वीट किया है। इस पर मंत्री ने इस पर कहा कि डॉ. रमन हाथरस की घटना पर क्यों चुप हैं। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में एक छोटी सी घटना हाे गई तो उस वे राजनीति करने लगे हैं। हाथरस की बड़ी घटना पर उनका मुंह नहीं खुल रहा है। मंत्री से बलरामुपर की गैंगरेप की घटना को छोटी कहने पर फिर सवाल उठाया तो मंत्री ने इस पर सफाई दी कि छत्तीसगढ़ की घटना को छोटी नहीं कह रहा हूं, मेरा कहना है कि हाथरस की घटना दर्दनाक है, छत्तीसगढ़ की घटना भी बेहद दुखद है। कोई घटना छोटी या बड़ी नहीं होती। मैं यही कहना चाहता हूं कि डॉ. रमन सिंह हाथरस की घटना पर चुप्पी न साधें।

राहुल-प्रियंका को प्लेन का टिकट भेजेंगे, छत्तीसगढ़ आएं

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस दौरे को लेकर यहां पर विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौैशिक ने कहा, भाजपा इनके लिए प्लेन का टिकट भेजेगी, राहुल और प्रियंका छत्तीसगढ़ भी आएं। उनका कहना है, छत्तीसगढ़ में भी रेप की एक ऐसी ही घटना हुई है। प्रदेश में लगातार रेप के मामले बढ़ रहे हैं। कांग्रेस ने इन राष्ट्रीय नेताओं का यहां के दौरे के लिए हम आमंत्रित कर रहे हैं। 

हाथरस की घटना को लेकर कांग्रेस पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर उत्तरप्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग करेगी। प्रदेश में 5 अक्टूबर को ब्लाॅक स्तर, 6 अक्टूबर को जिला स्तरीय और 7 अक्टूबर को प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन होगा।

Related Articles