News Narmadanchal
हिसार : स्कूल बंद होने पर भी जेब से खर्च करके बच्चों को पढ़ा रहे हैं जेबीटी टीचर दीपक

हिसार : स्कूल बंद होने पर भी जेब से खर्च करके बच्चों को पढ़ा रहे हैं जेबीटी टीचर दीपक

जेबीटी दीपक कुमार व सरहेड़ा गांव में बच्चों का गृहकार्य चेक करते अध्यापक दीपक कुमार।

हिसार। लॉकडाउन के कारण छह माह से अधिक समय से बंद पड़े सरकारी व निजी स्कूलों (Government and private schools) में पढ़नेे वाले बच्चे अपने घरों में रहकर ही शिक्षण कार्य कर रहे हैं। अध्यापक (Teacher) बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा दे रहे हैं। इन सबसे हटकर राजकीय प्राथमिक पाठशाला, गांव सरहेड़ा ब्लॉक बरवाला में कार्यरत जेबीटी अध्यापक दीपक कुमार ने स्कूल के बच्चों के लिए अपनी जेब से खर्च करके बच्चों को पढ़ाना शुरू किया।

अध्यापक दीपक कुमार ने बताया कि लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद होने पर विकट समस्या आ गई कि बच्चों को गृह कार्य कैसे करवाया जाए। मोबाइल से लगातार घंटों कार्य करने पर छोटे बच्चों की आंखों पर कुप्रभाव पड़ता है। मानसिक परेशानियों के चलते अध्यापक दीपक कुमार ने हिंदी, अंग्रेजी व गणित के पाठ्यक्रम अनुसार नोट्स व प्रेक्टिस सैट अपने खर्चे पर तैयार करवाकर बच्चों को घर-घर जाकर दिए तथा उन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित किया। इतना ही नहीं अध्यापक दीपक कुमार ने सप्प्ताह में एक बार बच्चों के घर जाकर उनका गृह कार्य चेक किया तथा उनका हौसला बढ़ाया।

अध्यापक दीपक कुमार के प्रयासों से अनेक बच्चे मोबाइल में समय नष्ट करने की बजाय पढ़ने में अपना समय लगा रहे हैं। अध्यापक दीपक कुमार द्वारा बच्चों के लिए किए गए प्रयासों की अभिभावकों शैलेन्द्र व भूपसिंह आदि ने भी सराहना की है। बच्चे नेहा, अवंतिका, रियांश, कनिष्क आदि अवकाश के दिनों में घर रहकर पूरी रुचि से पढ़ने में जुटे हैं। इस कार्य में दीपचंद, गुलाब, रमेश कुमार आदि भी पूर्ण सहयोग दे रहे हैं।

अध्यापक दीपक कुमार (Teacher Deepak Kumar) के प्रयासों से अनेक बच्चे मोबाइल में समय नष्ट करने की बजाय पढ़ने में अपना समय लगा रहे हैं। बच्चों के लिए किए गए प्रयासों की अभिभावकों ने भी सराहना की है।

Related Articles