News Narmadanchal

175 संदेहियों से होगी पूछताछ, 2 करोड़ का माल 10 करोड़ में खपाया

रायपुर. कोकीन के काले कारोबार को लेकर नया खुलासा हुआ है। कोकीन कांड की जांच कर रही कोतवाली पुलिस और साइबर सेल की टीमें अपने-अपने स्तर पर जांच कर रही हैं। इस मामले में साइबर सेल को एक ड्रग तस्कर के मोबाइल के कांटेक्ट लिस्ट में 175 लोगों के मोबाइल नंबर मिले हैं। कांटेक्ट लिस्ट के आधार पर उन नंबरों के बारे में साइबर सेल की टीम अलग-अलग पड़ताल कर रही है। साइबर सेल को जो कांटेक्ट नंबर मिले हैं, उसमें रायपुर, राजनांदगांव के अलावा बिलासपुर और कोरबा के लोगों के नाम शामिल हैं।

एएसपी क्राइम अभिषेक महेश्वरी के मुताबिक कांटेक्ट लिस्ट में रायपुर, राजनांदगांव, कोरबा और बिलासपुर के अलावा मुंबई के कई लोगों के नाम शामिल हैं। मोबाइल नंबर के आधार पर उन लोगों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। साथ ही जांच के बाद आने वाले दिनों में कोकीन के काले कारोबार में जुड़े लोगों की पुष्टि होने के बाद उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

एक ग्राम कोकीन का दस हजार

जांच में जो बाते सामने आई है, उसके मुताबिक ड्रग पैडलर जहां से कोकीन मंगाते थे, वहां उन्हें कोकीन महज दो हजार प्रति ग्राम के हिसाब से मिलता था। कोकीन चैनल के माध्यम से रायपुर तक पहुंचता था। यहां ग्राहकों तक कोकीन की कीमत प्रति एक ग्राम दस हजार रुपए तक पहुंच जाती थी। इस तरह ड्रग के इस काले कारोबार में ड्रग पैडलर से लेकर स्थानीय स्तर पर कोकीन बेचने वालों को भारी मुनाफा मिलता था।

आधा किलो तक आया छत्तीसगढ़

कोकीन के काले कारोबार में जितने नाम सामने आ रहे हैं, उस लिहाज से पुलिस को आशंका है कि कोकीन तस्करी के आरोप में पकड़े गए श्रेयांस झाबक और विकास बंछोर अपने तथा अपने चैनल से जुड़े लोगों के लिए हर माह आधा किलो से एक किलो तक कोकीन मंगाते थे और कोकीन को अपने ग्राहकों तक डिस्ट्रीब्यूट करते थे। इसमें कुछ रसूखदार लोग शामिल हैं। आधा किलो कोकीन की कीमत पांच करोड़ रुपए तक है। ऐसे में माना जा रहा है कि पकड़े गए आरोपियों के अलावा भी लोग इसमें शामिल हैं।

मोबाइल जब्त

पकड़े गए ड्रग तस्करों के कब्जे से जो मोबाइल जब्त किया गया है, उसमें 150 से ज्यादा लोगों के कांटेक्ट लिस्ट में नंबर मिले हैं। इसमें रायपुर के अलावा अन्य दूसरे जिलों के साथ महाराष्ट्र और अन्य प्रदेश के मोबाइल नंबर शामिल हैं। नंबरों की जांच की जा रही है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

– अभिषेक महेश्वरी, एएसपी क्राइम 

कोकीन के काले कारोबार को लेकर नया खुलासा हुआ है। कोकीन कांड की जांच कर रही कोतवाली पुलिस और साइबर सेल की टीमें अपने-अपने स्तर पर जांच कर रही हैं। इस मामले में साइबर सेल को एक ड्रग तस्कर के मोबाइल के कांटेक्ट लिस्ट में 175 लोगों के मोबाइल नंबर मिले हैं। कांटेक्ट लिस्ट के आधार पर उन नंबरों के बारे में साइबर सेल की टीम अलग-अलग पड़ताल कर रही है। साइबर सेल को जो कांटेक्ट नंबर मिले हैं, उसमें रायपुर, राजनांदगांव के अलावा बिलासपुर और कोरबा के लोगों के नाम शामिल हैं।

Related Articles