News Narmadanchal
26/11 Mumbai Terror Attacks: अगर नहीं होता नगरोटा एनकाउंटर तो फिर होता मुंबई जैसा हमला, ये हैं 5 आतंक के सबूत

26/11 Mumbai Terror Attacks: अगर नहीं होता नगरोटा एनकाउंटर तो फिर होता मुंबई जैसा हमला, ये हैं 5 आतंक के सबूत

नगरोटा एनकाउंटर 

नगरोटा एनकाउंटर 

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में हुए एनकाउंटर को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। मुठभेड़ में मारे गए चारों आतंकियों के पास से जो चीजें बरामद हुई हैं उसने पाकिस्तान की पोल खोल दी है। यही नहीं आतंकी पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से लगातार संपर्क में भी थे। आतंकियों के पास से पाकिस्तान की एक कंपनी का डिजिटल मोबाइल रेडियो बरामद हुआ है। पाकिस्तान में बैठे आकाओं से आतंकियों की क्या बात हो रही थी, ये उस मोबाइल के मैसेज में मिला। डीएमआर पर आतंकियों को मैसेज किया गया कि कहां पहुंचे। क्या माहौल है। कोई मुश्किल तो नहीं है। एजेंसी को शक है कि ये मैसेज पाकिस्तान के शकरदढ़ से भेजा गया।

इंटेलिजेंस के सूत्रों के मुताबिक, डिजिटल मोबाइल रेडियो पाकिस्तानी कंपनी माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स द्वारा निर्मित है। डिजिटल मोबाइल रेडियो पर मैसेज स्पष्ट रूप से दिखाते हैं कि घुसपैठ करने वाले आतंकवादी सीमा पार अपने आकाओं के साथ लगातार संपर्क में थे। इसके अलावा पाकिस्तान के खिलाफ जो अन्य सबूत हैं वो आतंकवादियों के जूते हैं। मारे गए आतंकवादियों ने जो जूते पहने थे वो कराची में बने थे। वहीं, एक वायरलेस सेट और एक जीपीएस डिवाइस भी बरामद किया गया। अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करने और सांबा के दक्षिण में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक पूर्व निर्धारित बिंदु तक पहुंचने के बाद आतंकवादी घाटी की ओर बढ़ रहे थे। भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी से स्पष्ट है कि वे घाटी में बड़े हमले के इरादे से आए थे। 

नगरोटा एनकाउंटर में पाकिस्तान का कनेक्शन के मिले ये 5 सबूत

भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी के सामने नगरोटा आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत भी रखे हैं। साथ ही ये कहा है कि पाकिस्तान अपनी जमीन का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए करना बंद कर दे। आपको बता दें कि नगरोटा में हुए एनकाउंटर में पाकिस्तान की साजिश होने के सबूत मिले हैं। भारत सरकार ने ये साफ किया है कि हम राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठा रहे हैं और आगे भी उठाएंगे। आपको बता दें कि नगरोटा में मारे गए जैश के चार आतंकियों के पास कई ऐसी चीजें बरामद हुई थीं, जिनका निर्माण पाकिस्तान में हुआ था। आपको बता दें कि सुरक्षाबलों को एनकाउंटर वाली जगह से आतंकियों के पास डिजिटल मोबाइल रेडियो मिला था, जिसका निर्माण पाकिस्तान की एक कंपनी में होता है। इस यंत्र के जरिए ही आतंकियोंने पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से बात की थी।

पीएम नरेंद्र मोदी की है हालात पर नजर

आपको बता दें कि नगरोटा में नाकाम हुई आतंकी साजिश सुरक्षाबलों के लिए एक बहुत बड़ी कामयाबी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस एनकाउंटर के बाद एक अहम बैठक भी की थी, जिसमें उन्हें पूरे हालात की जानकारी दी गई। इस बैठक के बाद पीएम मोदी ने कहा था कि पाकिस्तान से आए जैश के चारों आतंकी घाटी में बहुत बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देना चाहते थे, लेकिन हमारे मुस्तैद जवानों ने उस साजिश को नाकाम कर दिया।

26/11 Mumbai Terror Attacks: जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में हुए एनकाउंटर को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। मुठभेड़ में मारे गए चारों आतंकियों के पास से जो चीजें बरामद हुई हैं उसने पाकिस्तान की पोल खोल दी है। यही नहीं आतंकी पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से लगातार संपर्क में भी थे।

Related Articles