News Narmadanchal
Bihar Assembly Elections 2020: जदयू नेता बोले- एनडीए के अलावा किसी गठबंधन को बिहार की जनता के हितों की चिंता नहीं

Bihar Assembly Elections 2020: जदयू नेता बोले- एनडीए के अलावा किसी गठबंधन को बिहार की जनता के हितों की चिंता नहीं

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसादजदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: बिहार में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान हो चुका है। सूबे में पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को होगा। इसी को लेकर बिहार में सियासी दलों एवं गठबंधनों में आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। इसी कड़ी में जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने शुक्रवार को एक के बाद एक ट्वीट कर बिहार में अन्य विपक्षी गठबंधनों पर निशाना साधा है। राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि बिहार में एनडीए के अलावा जो चार और गठबंधन बने हैं। वो गठबंधन महत्वाकांक्षाओं के छोटे छोटे टापू हैं। जो बेलगाम महत्वकांक्षाओं के राजनेताओं द्वारा बनाये गये हैं। राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि इन गठबंधन के राजनेताओं को न बिहार की जनता के हितों की चिंता है। इसके अलावा इन गठबंधनों की जनता के बीच उपस्थिति ना के बराबद ही दर्ज है।

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने अन्य ट्वीट में कहा कि जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए पूरी तरह से एकजुट व चुनाव के लिए तैयार है। नीतीश कुमार के विकास कार्यों की हर ओर चर्चा है। साथ ही बिहार की जनता का आशीर्वाद एनडीए के साथ है। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि निश्चित तौर पर एनडीए को इस बार बिहार में प्रचंड जनादेश मिलने जा रहा है।

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि बिहार चुनाव में तथाकथित महागठबंधन का सूपड़ा साफ होना बिल्कुल तय है। उन्होंने कहा कि पहले ही कई दल महागठबंधन से अलविदा कर चुके हैं। वहीं अब तेजस्वी यादव के अहंकारी प्रवृत्ति के कारण साथ रहने वाले लोगों को नजरअंदाज किया जा रहा है। इन सभी बातों से प्रमाणित होता है कि तथाकथित महागठबंधन अब टूट की कगार पर है।

राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में ‘सात निश्चय-2’ के तहत महिला सशक्तिकरण पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। महिला उद्यमिता के लिए विशेष सहायता दी जाएगी। बिहार में महिलाओं को और सशक्त बनाने की दिशा में कार्य किया जाएगा।  

Bihar Assembly Elections 2020: जदयू नेता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि एनडीए के अलावा बिहार में जो अन्य चार गठबंधन हैं। उनको बिहार की जनता के हितों की चिंता नहीं है। ना ही उनकी जनता के बीच मौजूदगी दर्ज है। वहीं राजीव ने दावा किया कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए को इस बार प्रचंड जनादेश मिलने जा रहा है।[#item_full_content]

Related Articles