News Narmadanchal
Corona के भय से ऑनलाइन पढ़ना चाहते हैं विद्यार्थी

Corona के भय से ऑनलाइन पढ़ना चाहते हैं विद्यार्थी

हरिभूमि न्यूज : गुरुग्राम

कोरोना (Corona) के चलते कॉलेज के ज्यादातर विद्यार्थी (Students) ऑनलाइन ही पढ़ना चाहते हैं। राजकीय महाविद्यालयों में स्नातक और स्नातकोत्तर कोर्सों की 17 नवंबर से कक्षाएं लगनी शुरू हो गई हैं। महाविद्यालयों ने ऑनलाइन और ऑफलाइन कक्षा लगाने के लिए हाल ही में सर्वे किया था उनमें अधिकतर विद्यार्थियों ने ऑनलाइन कक्षा का विकल्प चुना है।

राजकीय महाविद्यालय, सेक्टर-नौ के प्राचार्य डा. सत्यमन्यु यादव ने बताया कि महाविद्यालय के अधिकतर विद्यार्थियों ने आनलाइन कक्षा का विकल्प चुना है। ऐसे में मंगलवार को केवल 20 प्रतिशत विद्यार्थी ही कक्षा लेने के लिए पहुंचे। उन्होंने बताया कि सप्ताह में किस दिन किस कोर्स के विद्यार्थी को बुलाया जाना है यह महाविद्यालय ने अपने स्तर पर तय कर लिया है। अब विद्यार्थी ऑनलाइन पढ़ाई करना चाहते हैं या ऑफलाइन यह उनकी मर्जी है।

वहीं सेक्टर 14 के राजकीय महिला महाविद्यालय के प्राचार्य आरके गर्ग ने बताया कि 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को ऑनलाइन और 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को ऑफलाइन कक्षाओं के लिए बुलाया गया है। पहले दिन एक हजार विद्यार्थियों को बुलाया गया था। लेकिन, 50 प्रतिशत की ही उपस्थिति दर्ज की गई है। इनमें से ज्यादातर वह थे जो दाखिले के लिए अपने दस्तावेज जमा करने के लिए पहुंचे थे।

वहीं बता दें कि हरियाणा में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। नए मामले बढऩे के साथ ही मौतों का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है। मौतों के मामले में हिसार हाट स्पॉट बन गया है।  प्रदेश में बुधवार शाम तक कुल पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 207039 पहुंच गया है। जबकि 185403 लोगों को अब तक डिस्चार्ज किया जा चुका है और रिकवरी रेट घटकर 89.55 फीसदी हो गया है। 

महाविद्यालयों ने ऑनलाइन और ऑफलाइन कक्षा
(Class) लगाने के लिए हाल ही में सर्वे (Survey) किया था उनमें अधिकतर विद्यार्थियों ने ऑनलाइन कक्षा का विकल्प चुना है।

Related Articles