News Narmadanchal

PUBG की भारत में रि-एंट्री रिलायंस जीयो के बगैर संभव नहीं होगी

मंत्रालय के स्तर पर पबजी के रिएंट्री की कोई बातचीत नहीं, केवल सरकार ही तय करेगी इस मोबाइल गेम का भविष्य

मोदी सरकार ने भारत में पबजी मोबाइल गेम पर प्रतिबंध लगा दिया था। चीन के साथ कनेक्शन रखने वाली कई मोबाइल एप पर लगाये गये बैन में पबजी का भी नंबर लग गया था। ज्ञातव्य है कि भारत में पबजी के करोड़ों यूजर्स थे और इस पाबंदी के बाद उसने चलाने वाली कंपनी पबजी कोर्पोरेशन को को अरबों का घाटा उठाना पड़ा है।

यद्यपि ऐसा माना जा रहा था कि पबजी अपने चीनी संपर्कों से नाता तोड़ देगा और उसके बाद उसे भारत में पुनः मंजूरी मिल जायेगी। लेकिन इस आस में बैठे पबजी प्रशंसकों के लिये बूरी खबर है। सरकार की ओर ऐसे कोई संकेत नहीं मिल रहे हैं।

बता दें कि पबजी कोर्पोरेशन ने भारत में प्रतिबंध के बाद घोषणा की थी ‌उसने भारत में अपनी गेम के डिस्ट्रीब्यूशन राइट्स टेनसेट से वापस लेलिये हैं और वह खुद इसे पब्लिश करेगी। ज्ञात रहे कि भारत में गूगल प्ले स्टोर और एपल एप स्टोर में गेम उपलब्ध नहीं है। यदि यूजर के मोबाइल में एप पहले से डाउनलोड है, तो भी भारतीय आईएसपी से जुड़े होने के कारण उस पर खेलना संभव नहीं है।

बीच में ऐसी भी अटकलें लग रही थी कि पबजी भारत में रिलायंस जीयो के साथ नाता जोड़कर अपनी एंट्री का रास्ता साफ कर सकती है। रिलायंस जीयो अपने प्लेटफोर्म पर गेमर्स को ये गेम डिस्‍ट्रीब्यूट कर सकता है। हिंदु बिजनेसलाइन में इस संदर्भ में एक रिपोर्ट भी प्रकाशित हुई बताई गई है जिसमें कहा गया कि पबजी के भारत में दीर्घकालीन प्लान हैं और इसके लिये उसे लोकल पार्टनर की जरूरत है। अब देखना होगा भारत में पबजी की एंट्री हो भी पाती है केवल अटकलबाजियां ही चलती रहेंगी।

भारत में यदि पबजी को एंट्री लेनी होगी तो वो रिलायंस जीयो की बदौलत की संभव हो पायेगी क्योंकि जीयो प्लेटफोर्म के लिये यह एक स्वाभाविक अवसर है और जीयो के स्तर का दूसरा डिजीटल प्लेटफोर्म या राजनीतिक पैंठ रखने वाला कारोबारी घराना दूसरा नहीं मिल पायेगा।

मंत्रालय के स्तर पर पबजी के रिएंट्री की कोई बातचीत नहीं, केवल सरकार ही तय करेगी इस मोबाइल गेम का भविष्य मोदी सरकार ने भारत में पबजी मोबाइल गेम पर प्रतिबंध लगा दिया था। चीन के साथ कनेक्शन रखने वाली कई मोबाइल एप पर लगाये गये बैन में पबजी का भी नंबर लग गया था।

Related Articles